सीडब्ल्यूजी 2022 के लिए युवा स्क्वैश स्टार अनाहत तैयार

IANS
3 Min Read

सीडब्ल्यूजी 2022 के लिए युवा स्क्वैश स्टार अनाहत तैयार बर्मिघम, 27 जुलाई (आईएएनएस)। भारत की युवा स्क्वैश सनसनी अनाहत सिंह राष्ट्रमंडल गेम्स में बेहतर करने के लिए उत्सुक हैं। उम्मीद है कि स्क्वैश के सबसे बड़े मंच पर जूनियर के रूप में अपनी प्रतिष्ठा का परीक्षण करने में कामयाब रहेंगी।

14 वर्षीय भारतीय दल की सबसे कम उम्र की सदस्य और यूएस जूनियर ओपन खिताब जीतने वाली एकमात्र भारतीय लड़की है। उन्होंने ब्रिटिश, जर्मन और डच जूनियर ओपन और एशियाई चैंपियनशिप ट्राफियां भी जीती हैं। भारतीय जूनियर सर्किट में अपनी सफलता के साथ उन्होंने 50 से अधिक खिताब जीते हैं।

अनाहत ने बर्मिघम राष्ट्रमंडल गेम्स की आयोजन समिति से बातचीत में कहा, एक मैच में मैं दो गेम से पिछड़ गईं थीं, लेकिन पांच-सेटर में जीती थीं।

उन्होंने कहा, तब से मैंने काफी सुधार किया है, इसलिए मेरे और अन्य लड़कियों के बीच का अंतर बहुत बड़ा है।

अनाहत बर्मिघम 2022 में सबसे कम उम्र की स्क्वैश खिलाड़ी हैं और उन्होंने शुक्रवार (29 जुलाई) को स्क्वैश प्रतियोगिता के शुरूआती दिन सेंट विंसेंट और ग्रेनेडाइंस के जैडा रॉस के खिलाफ अपने अभियान की शुरूआत की।

अनाहत ने बैडमिंटन खेलना शुरू कर दिया, लेकिन अपनी बड़ी बहन अमीरा के प्रभाव के कारण स्क्वैश की ओर आकर्षित हुई, जो अब हार्वर्ड विश्वविद्यालय की छात्रा है।

उन्होंने कहा, मैं पहली बार इसके लिए तैयार थीं क्योंकि मुझे दीवार से टकराने वाली गेंद की आवाज पसंद थी।

उन्होंने आगे कहा, मुझे विभिन्न खेलों की खोज करना पसंद है लेकिन यह स्क्वैश है जिसे मैं किसी भी अन्य से ज्यादा प्यार करती हूं। मैं कोर्ट के आसपास बहुत तेज हूं और मैं हार नहीं मानती, भले ही स्कोर मेरे खिलाफ हो।

भारत के राष्ट्रीय कोच साइरस पोंचा ने कहा, ये खेल उनके लिए बड़े पैमाने पर होंगे। उनके पास अच्छी प्रतिभा है और उनके साथ काम करना बहुत आसान है। उसकी सबसे बड़ी ताकत उसकी गति है और वह कई अन्य जूनियर्स के विपरीत गेंद को सीधे हिट करती हैं।

आईएएनएस

देश विदेश की तमाम बड़ी खबरों के लिए निहारिका टाइम्स को फॉलो करें। हमें फेसबुक पर लाइक करें और ट्विटर पर फॉलो करें। ताजा खबरों के लिए हमेशा निहारिका टाइम्स पर जाएं।

Share This Article
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *