एशियाई क्षेत्रीय मंच की वर्चुअल बैठक की मेजबानी करेगा चुनाव आयोग

Sabal Singh Bhati
3 Min Read

एशियाई क्षेत्रीय मंच की वर्चुअल बैठक की मेजबानी करेगा चुनाव आयोग नई दिल्ली, 10 अगस्त (आईएएनएस)। भारत निर्वाचन आयोग गुरुवार को निर्वाचन सदन में हमारे चुनावों को समावेशी, सुगम और सहभागी बनाना विषय पर एशियाई क्षेत्रीय मंच की वर्चुअल बैठक की मेजबानी करेगा।

इस क्षेत्रीय मंच की बैठक के बाद आने वाले महीने में लोकतंत्र के लिए वैश्विक शिखर सम्मेलन का आयोजन किया जाएगा, जिसकी मेजबानी मेक्सिको के राष्ट्रीय चुनाव संस्थान द्वारा की जाएगी।

चुनाव आयोग के अनुसार, वैश्विक शिखर सम्मेलन और क्षेत्रीय मंच की बैठकों का उद्देश्य दुनिया के अंतरराष्ट्रीय संगठनों एवं चुनाव निकायों के बीच तालमेल पैदा करना तथा विश्व में चुनावी लोकतंत्र को मजबूत करने के लिए बौद्धिक और संस्थागत समन्वय को बढ़ावा देना है।

आयोग ने एक बयान में कहा, मुख्य चुनाव आयुक्त राजीव कुमार और चुनाव आयुक्त अनूप चंद्र पांडे, एशियाई क्षेत्रीय मंच की बैठक की अध्यक्षता करेंगे। इस बैठक में मेक्सिको, मॉरीशस, फिलीपींस, नेपाल, उज्बेकिस्तान, मालदीव के चुनाव प्रबंधन निकायों तथा अंतर्राष्ट्रीय आईडीईए, एसोसिएशन ऑफ वल्र्ड इलेक्शन बॉडीज (ए-वेब) और इंटरनेशनल फाउंडेशन फॉर इलेक्टोरल सिस्टम (आईएफईएस) के प्रतिनिधि भाग लेंगे।

एशियाई क्षेत्रीय मंच (एआरएफ) की बैठक में दो सत्र होंगे। पहला सत्र समावेशी चुनाव: दूरदराज के क्षेत्रों में युवाओं, विभिन्न समुदायों और नागरिकों की भागीदारी बढ़ाना विषय पर आयोजित किया जायेगा, जिसकी सह-अध्यक्षता मॉरीशस और नेपाल के मुख्य चुनाव आयुक्त करेंगे। इस सत्र में सीओएमईएलईसी फिलीपींस, अंतर्राष्ट्रीय आईडीईए तथा ए-वेब के प्रतिनिधि शामिल होंगे।

चुनाव तक आसान पहुंच: दिव्यांग व्यक्तियों और वरिष्ठ नागरिकों की भागीदारी बढ़ाना विषय पर दूसरे सत्र की अध्यक्षता सीओएमईएलईसी, फिलीपींस के आयुक्त और उज्बेकिस्तान के सीईसी द्वारा की जाएगी तथा इसमें नेपाल व मालदीव के चुनाव आयोग एवं आईएफईएस (एशिया प्रशांत) के प्रतिनिधि भाग लेंगे।

चुनाव आयोग ने बुधवार को एक आधिकारिक बयान में कहा, लोकतंत्र के लिए वैश्विक शिखर सम्मेलन के हिस्से के रूप में, पांच क्षेत्रीय मंच- अफ्रीका, अमेरिका, एशिया, यूरोप और अरब देश में गठित किये गए। भारत ईएमबी के एशियाई क्षेत्रीय मंच की बैठक की मेजबानी कर रहा है, जिसका उद्देश्य न केवल लोकतंत्र के लिए वैश्विक शिखर सम्मेलन के अग्रदूत के रूप में ईएमबी को संस्थागत बनाना और संगठित करना है, बल्कि कोविड-19 महामारी की चुनौतियों को ध्यान में रखते हुए बदलती वैश्विक-राजनीति, उभरती प्रौद्योगिकियों और चुनाव प्रबंधन में उनके उपयोग को प्रतिबिंबित करना भी है।

क्षेत्रीय मंच की बैठकों के परिणामों का उद्देश्य दुनिया भर में लोकतंत्र को मजबूत करने के लिए विशेष रूप से मजबूत चुनाव प्रक्रियाओं के माध्यम से, कार्य योजना और एजेंडा तैयार करना है। अब तक, यूरोप, अमेरिका और अफ्रीका के तीन क्षेत्रीय मंच की बैठकें जून और जुलाई, 2022 के दौरान आयोजित की जा चुकी हैं।

आईएएनएस

देश विदेश की तमाम बड़ी खबरों के लिए निहारिका टाइम्स को फॉलो करें। हमें फेसबुक पर लाइक करें और ट्विटर पर फॉलो करें। ताजा खबरों के लिए हमेशा निहारिका टाइम्स पर जाएं।

Share This Article