बंगाल मवेशी तस्करी मामला : सीबीआई अधिकारी अनुब्रत मंडल के बोलपुर हाउस पहुंचे

Sabal Singh Bhati
3 Min Read

बंगाल मवेशी तस्करी मामला : सीबीआई अधिकारी अनुब्रत मंडल के बोलपुर हाउस पहुंचे कोलकाता, 11 अगस्त (आईएएनएस)। केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) के अधिकारियों का एक दल गुरुवार सुबह केंद्रीय सशस्त्र बलों के जवानों की एक बड़ी टुकड़ी के साथ बोलपुर स्थित तृणमूल कांग्रेस के कद्दावर नेता अनुब्रत मंडल के आवास पर पहुंचा।

केंद्रीय एजेंसी पश्चिम बंगाल में पशु तस्करी मामले की जांच कर रही है।

तृणमूल कांग्रेस के बीरभूम जिलाध्यक्ष द्वारा सीबीआई के लगातार दस समन की अनदेखी करने के बाद केंद्रीय एजेंसी के शीर्ष अधिकारियों ने अब और इंतजार नहीं करने का फैसला किया और इसके बजाय गुरुवार सुबह उनके आवास पर पहुंच गए। एजेंसी के अधीक्षक (भ्रष्टाचार विरोधी शाखा) राजीव मिश्रा के नेतृत्व में सीबीआई अधिकारियों की एक टीम केंद्रीय सशस्त्र बलों के कर्मियों की टीम के साथ बुधवार देर रात बोलपुर पहुंची थी।

सुबह करीब 9.50 बजे सीबीआई और केंद्रीय सशस्त्र कर्मियों की टीम मंडल के आवास पर पहुंची। सबसे पहले केंद्रीय सशस्त्र बलों ने पूरे आवासीय भवन को सभी बिंदुओं से घेर लिया। इसके बाद सीबीआई अधिकारी दो टीमों में बंट गए। एक टीम मुख्य सामने के गेट से आवास में दाखिल हुई, जबकि दूसरी इमारत के पिछले हिस्से के दूसरे गेट से दाखिल हुई।

सीबीआई के एक अधिकारी ने कहा, उनके दरवाजे तक पहुंचने का फैसला बुधवार शाम को ही लिया गया था, जब हम निश्चित हो गए कि मंडल सम्मन से बचने के लिए कितना बेताब है, जिसके लिए उन्होंने बोलपुर उप-मंडल अस्पताल के एक डॉक्टर पर दबाव डालकर बिस्तर पर आराम की सलाह भी ली। हम यहां तक कि संबंधित डॉक्टर से बात की और उन्होंने यह भी कहा कि उन्हें अपने उच्च अधिकारियों के साथ-साथ मंडल दोनों से सादे कागज में बेड-रेस्ट की सलाह देने के लिए मजबूर किया गया था। इसलिए, इससे पहले कि वह पूछताछ को टालने के लिए कोई और तरीका अपना सके, हमने उनके घर पहुंचने का फैसला किया।

नवीनतम जानकारी उपलब्ध होने तक सीबीआई के अधिकारी मंडल से उनके आवास के भीतर ही पूछताछ कर रहे थे और अब यह देखना होगा कि केंद्रीय एजेंसी के अधिकारी अंतत: उन्हें गिरफ्तार करेंगे या उनके आवास पर उनसे पूछताछ करके संतुष्ट रहेंगे।

सीबीआई ने आवास में प्रवेश करने के बाद पहले वहां तैनात निजी सुरक्षाकर्मियों को इमारत से बाहर निकलने को कहा और केंद्रीय सशस्त्र बलों के जवानों को भी निर्देश दिया कि वे किसी को भी अंदर न जाने दें। सीबीआई अधिकारियों ने छापेमारी के दौरान इमारत में मौजूद सभी लोगों के पास से सभी मोबाइल फोन भी जब्त कर लिए हैं।

यह पता चला है कि सीबीआई की टीम उनके साथ एक अदालती आदेश भी ले रही है जो उन्हें मंडल के आवास पर तलाशी अभियान चलाने का अधिकार देता है।

आईएएनएस

देश विदेश की तमाम बड़ी खबरों के लिए निहारिका टाइम्स को फॉलो करें। हमें फेसबुक पर लाइक करें और ट्विटर पर फॉलो करें। ताजा खबरों के लिए हमेशा निहारिका टाइम्स पर जाएं।

Share This Article