पप्पू यादव ने बिहार में बढ़ते अपराध को लेकर विधायकों, सांसदों के बहिष्कार की अपील की

Sabal Singh Bhati
2 Min Read

पटना, 15 नवंबर ()। जन अधिकार पार्टी (जाप) के अध्यक्ष राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव ने मंगलवार को कहा कि जब तक लोग जनप्रतिनिधियों के खिलाफ आवाज नहीं उठाएंगे, तब तक बिहार में हत्याएं नहीं रुकेंगी। राज्य में विधायकों, सांसदों और मंत्रियों का सामाजिक बहिष्कार किया जाना चाहिए।

यादव ने कहा, राजनीतिक दल एके 47 और एके 56 रखने वाले लोगों को टिकट दे रहे हैं। वे गैंगस्टरों और माफियाओं को टिकट दे रहे हैं। यहां हत्याएं कैसे रुक सकती हैं। अपराधियों को कानून और व्यवस्था का कोई डर नहीं है।

वह समस्तीपुर में पिछले सप्ताह मारे गए सुनील यादव (20) के परिजनों को सांत्वना देने पहुंचे।

यादव ने कहा, बिहार में समस्तीपुर और भोजपुर जैसे जिले श्मशान घाट बन गए हैं, जहां दिनदहाड़े हत्याएं हो रही हैं। समस्तीपुर के सरायरंजन क्षेत्र में कई हत्याएं हो चुकी हैं। भोजपुर मुख्यालय आरा में पिछले 11 में 10 हत्याएं हो चुकी हैं। आरा का एक एमएलसी हेरोइन और मारिजुआना की तस्करी में शामिल है। वह आरा क्षेत्र में एक प्रसिद्ध रेत माफिया है, फिर भी राजनीतिक दल उन्हें संरक्षण दे रहे हैं।

उन्होंने कहा, जब भी बिहार में कोई हत्या होती है, तो स्थानीय विधायक, एमएलसी, सांसद या मंत्री पीड़ित परिवार को सांत्वना देने नहीं आते हैं। यहां कोई नहीं सुनता। मैं यह बताना चाहता हूं कि ऐसे नेताओं को वोट देने के लिए लोग जिम्मेदार हैं। अगर वे चुनाव में उनका बहिष्कार करना शुरू कर दें, यहां अपराध के मामले अपने आप कम हो जाएंगे। प्रदेश की जनता जनप्रतिनिधियों का सामाजिक बहिष्कार शुरू करे।

एसजीके/एएनएम

Share This Article