कच्छ-सौराष्ट्र क्षेत्र में बड़ी छलांग लगाएगी भाजपा, आप को भी होगा फायदा

Sabal Singh Bhati
2 Min Read

नई दिल्ली, 5 दिसंबर ()। गुजरात विधानसभा चुनाव के रुझानों पर नजर डालें तो भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) कच्छ-सौराष्ट्र क्षेत्र में बड़ी बढ़त हासिल करने की ओर अग्रसर है, जबकि कांग्रेस के हारने का अनुमान है, हालांकि 2017 के चुनावों में उसे जीत मिली थी।

गुजरात में 182 विधानसभा सीटों पर फैले 30,000 के सैंपल साइज वाले एबीपी-सीवोटर एग्जिट पोल के के विश्लेषण से यह बात सामने आई।

सर्वेक्षण के निष्कर्षो से पता चलता है कि कच्छ-सौराष्ट्र क्षेत्र में भाजपा को 54 में से 40 सीटें मिलने का अनुमान है, 2017 में जीती गई 23 सीटों की तुलना में इसे 17 सीटों का लाभ हुआ है।

हालांकि, इसका वोट शेयर 2017 के 45.9 फीसदी से घटकर इस बार 43 फीसदी रहने का अनुमान है।

कांग्रेस को 2017 में कच्छ-सौराष्ट्र क्षेत्र में 10 सीटें मिलने का अनुमान है, जबकि 2017 में इसे 30 सीटों में से 20 पर जीत मिली थी।

दिलचस्प बात यह है कि आम आदमी पार्टी (आप) के 17.1 प्रतिशत वोट शेयर के साथ इस क्षेत्र में पांच सीटें जीतने का अनुमान लगाया गया है, जिससे कांग्रेस की संभावनाओं को नुकसान पहुंचा है।

सर्वेक्षण के निष्कर्षो के अनुसार, शंकर सिंह वाघेला द्वारा एक संक्षिप्त विद्रोह को छोड़कर लगातार 27 वर्षो तक लगातार गुजरात पर शासन करने वाली मौजूदा भाजपा को 182 सदस्यीय विधानसभा में 128 और 140 सीटों के बीच जीत का अनुमान है। 27 साल की सत्ता-विरोधी लहर के बावजूद, इन चुनावों में भाजपा का वोट शेयर 2017 के 49.1 प्रतिशत से थोड़ा सुधरकर 49.4 प्रतिशत होने की उम्मीद है।

कुल मिलाकर, आप को 3 से 11 सीटे मिलने का अनुमान है, जबकि कांग्रेस को 31 से 43 सीटों पर जीत मिलने की संभावना है, जो 2017 में जीती गई 77 सीटों से काफी कम है।

एसजीके/एएनएम

Share This Article