अजब गजब

हिमालय का वह रहस्यमयी शहर जहाँ रहने वाला होता है अमर, नहीं बढ़ती है उम्र, जाने उसकी अद्भुत बातें

हिमालय की वादियों के बीच एक ऐसा शहर भी है जहां ना तो किसी की मृत्यु होती है ना ही किसी की उम्र बढ़ती है। यह शहर अमर है। इनका तिब्बती, बौद्ध, प्राचीन ग्रन्थों व लोक कथाओं में जिक्र मिलता है।

हिमालय का वह रहस्यमयी शहर जहाँ रहने वाला होता है अमर, नहीं बढ़ती है उम्र, जाने उसकी अद्भुत बातें

अजब गजब. कहते है मानव जीवन को अमरत्व प्राप्त नही है। जो इस दुनिया मे आया है उसे जाना ही है यही संसार का नियम है। लेकिन आपको यह जानकर हैरानी होगी कि हिमालय की वादियों के बीच एक ऐसा शहर भी है जहां ना तो किसी की मृत्यु होती है ना ही किसी की उम्र बढ़ती है। यह शहर अमर है। इनका तिब्बती, बौद्ध, प्राचीन ग्रन्थों व लोक कथाओं में जिक्र मिलता है।
आज तक इस शहर तक कोई पहुंच नही पाया है लेकिन हाँ यदि इस शहर से कोई इंसानों की दुनिया मे आ जाये तो तबाही मचा सकती है।
यह जगह हिमालय के लगभग 24000 किलोमीटर की लंबाई में फैली है।

आपको यह सुनकर यकीन नही हो रहा होगा लेकिन यदि आप वेदों, पुराणों आदि को पढ़ेंगे तो इसका जिक्र आपको जरूर मिलेगा। यहां पर लगता है मानो वक्त थम सा गया हो।

यह भी पढ़ें, भूतिया गाँव, जहाँ रहते है 8 जवानों के भूत, हर कोई डरता है यहां कदम रखने से

मान्यताओं के अनुसार, समय-समय पर इस दुनिया से लोग इंसानी दुनिया में आते हैं और इससे मानव दुनिया में उथल-पुथल मच जाती है। कई बड़े बदलाव भी होते हैं। कलियुग के अवतार भगवान कल्कि देव के भविष्यवाणी में भी इस शहर का जिक्र है। ऐसा माना जाता है कि कल्कि देव के गुरु इसी शहर में हैं। यही रहकर वह उनके जन्म की प्रतीक्षा कर रहे हैं।

हिमालय का वह रहस्यमयी शहर जहाँ रहने वाला होता है अमर, नहीं बढ़ती है उम्र, जाने उसकी अद्भुत बातें
हिमालय का वह रहस्यमयी शहर जहाँ रहने वाला होता है अमर, नहीं बढ़ती है उम्र, जाने उसकी अद्भुत बातें

इस जगह को अलग अलग नामो से पुकारा जाता है जैसे, सांभल, सिद्धाश्रम या फिर शांगरी-ला।
कहा जाता है कि युधिष्ठिर अपने जीवन के आखरी समय मे अपने परिवार वालो के साथ यहीं रहने गए थे।
यह सुनकर आप सोच रहे होंगे कि काश आप भी वहां जाकर रह सकते। लेकिन यह सम्भव नही है।क्योंकि इस जगह तक पहुंचना आसान नहीं है।
मैपिंग टेक और नेविगेशन सिस्टम की मदद से भी इस जगह को खोजना नामुमकिन सा है।
सिद्धाश्रम तक पहुंचना आम इंसान की पहुंच से काफी दूर है। लेकिन वहाँ के निवासी समय समय पर इंसानों की दुनिया मे आ जा सकते है। इस वजह से दुनिया मे काफी सारे बदलाव हुए है।

आपने “द ममी”का तीसरा भाग तो देखा ही होगा। जहाँ इस जगह को दिखाया गया है। उस फिल्म में इसे शांगरी-ला नाम से सम्बोधित किया गया है। फ़िल्म में इस जगह रहने वालों दोनों पात्र 10,000 साल के दिखाए गए है जबकि उनकी उम्र 21 या 22 साल के व्यक्ति जैसी ही होती है।

Tina Chouhan

Author, Editor, Web content writer, Article writer and Ghost writer

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker