बिहारराजनीति

बिहार : निगरानी की छापेमारी में पुलिस अवर निरीक्षक निकला करोड़ों की संपत्ति का मालिक

पटना, 26 दिसंबर ()। बिहार में इन दिनों भ्रष्ट अधिकारियों पर निगरानी अन्वेषण ब्यूरो और आर्थिक अपराध इकाई का शिकंजा लगातार कसता जा रहा है। इसी दौरान शनिवार को वैशाली जिले में तैनात पुलिस अवर निरीक्षक अनिल प्रसाद के पटना और वैशाली के ठिकानों पर निगरानी ब्यूरों की टीम ने छापेमारी की। इस छापेमारी में पुलिस अधिकारी के अकूत संपत्ति के मालिक होने का खुलासा हुआ है।

निगरानी अन्वेषण ब्यूरो के एक अधिकारी ने बताया कि अनिल के घर से कई महत्वपूर्ण कागजात के साथ धन संपदा अर्जित किए जाने की जानकारी मिली है।

निगरानी टीम द्वारा पटना के तेजप्रताप नगर स्थित एक 5 मंजिला मकान और एक तीन मंजिला मकान की छापेमारी के दौरान सोने एवं चांदी के जेवरात बरामद किया गए हैं, जिसकी कुल कीमत 5.50 लाख रुपये से ज्यादा आंकी गई है। इसके अलावे जमीन के 6 डीड बरामद किए गए हैं, जिसकी कीमत डेढ़ करोड़ रुपये बताई जा रही है।

इसके अलावा, दो डीड जिसकी कीमत 10 लाख रुपये से अधिक है, उसे बैंक में बंधक रखकर ऋण लिया गया है।

निगरानी के एक अधिकारी ने बताया कि छापेमारी के दौरान 17 बैंकों के पासबुक, 5 डेबिट कार्ड, निवेश से संबंधित कई कागजात मिले हैं। छापेमारी के दौरान इनके आवास से एक हुंडई क्रेटा, एक मारुति सुजुकी स्विफ्ट के कागजात बरामद हुए हैं। कई अन्य निजी कंपनियों में निवेश का पता चला है।

उन्होंने बताया कि मकान में चल रहे अन्य कार्यालयों में भी अभी तलाशी का कार्य जारी है।

उल्लेखनीय है कि निगरानी विभाग द्वारा 1 करोड़ 55 लाख 39 हजार 8 सौ रुपये का आय से अधिक धन अर्जन का मामला दर्ज कर अनुसंधान किया जा रहा है। वैशाली स्थित मकान पर भी छापेमारी की गई है।

एमएनपी/एसजीके