भाजपा नेताओं ने गोडसे की प्रशंसा की, कांग्रेस ने पीएम मोदी का नाम लिए बगैर कसा तंज

Sabal SIngh Bhati
3 Min Read

भाजपा नेताओं ने गोडसे की प्रशंसा की, कांग्रेस ने पीएम मोदी का नाम लिए बगैर कसा तंज नई दिल्ली, 10 जून ()। कांग्रेस ने शनिवार को महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे की प्रशंसा करने के लिए भाजपा नेताओं की आलोचना की और पीएम मोदी का नाम लिए बगैर उन पर तंज कसा है। कांग्रेस ने कहा, उन्होंने बापू के चश्मे को स्वच्छ भारत के लोगो में बदल दिया, लेकिन वह अपने सहयोगियों को ऐसा बोलने से रोकने के लिए कोई कार्रवाई नहीं करते हैं।

कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश ने ट्वीट किया, पहले उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने नाथूराम गोडसे को देशभक्त बताया। अब केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने उसकी तारीफ की है। लेकिन जिस व्यक्ति ने पहले से चले आ रहे निर्मल भारत अभियान की रीब्रांडिंग स्वच्छ भारत अभियान के रूप में की और महात्मा के चश्मे को उसका लोगो बनाया, वह कुछ नहीं बोलता है और न ही अपने सहयोगियों को ऐसा बोलने से रोकने के लिए कोई कार्रवाई करता है।

जयराम रमेश की यह टिप्पणी शुक्रवार को गिरिराज सिंह के द्वारा दिए गए बयान पर आई है। गिरिराज सिंह ने शुक्रवार को कहा था कि अगर गोडसे गांधी का हत्यारा है, तो वह देश का बेटा भी है। वह भारत में पैदा हुआ था, और वह औरंगजेब या बाबर जैसा आक्रमणकारी नहीं था। जिसे बाबर का बेटा कहलाने में खुशी होती है, वह भारत माता का बेटा नहीं हो सकता।

रिपोर्ट के अनुसार, सिंह ने छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा में पत्रकारों से बातचीत के दौरान यह टिप्पणी की थी। इससे पहले, उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा नेता त्रिवेंद्र सिंह रावत ने उत्तर प्रदेश के बलिया की अपनी यात्रा के दौरान गोडसे को देशभक्त करार देने के बाद विवाद खड़ा कर दिया था।

रावत ने बुधवार को पत्रकारों से बातचीत में कहा था, गांधी जी की हत्या हुई थी, वह अलग बात है। लेकिन जहां तक मैंने गोडसे को समझा और पढ़ा है, वह भी देशभक्त था। रावत ने गोडसे को राष्ट्रपिता के साथ उपनाम साझा करने के लिए कांग्रेस नेता राहुल गांधी का मजाक उड़ाते हुए देशभक्त करार दिया था।

एफजेड/

देश विदेश की तमाम बड़ी खबरों के लिए निहारिका टाइम्स को फॉलो करें। हमें फेसबुक पर लाइक करें और ट्विटर पर फॉलो करें। ताजा खबरों के लिए हमेशा निहारिका टाइम्स पर जाएं।

Share This Article