अपराध

कर्नाटक में नैतिक पुलिसिंग मामले में 3 गिरफ्तार, अन्य की तलाश जारी

बेलगावी (कर्नाटक), 20 अक्टूबर ()। कर्नाटक पुलिस ने बेलगावी जिले में नैतिक पुलिसिंग, रंगदारी और मारपीट के मामले में तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। पुलिस सूत्रों ने बुधवार को यह जानकारी दी।

आरोपियों की पहचान दावत कतीब, अयूब और यूसुफ पठान के रूप में हुई है। पुलिस ने अन्य आरोपियों को पकड़ने के लिए सहायक पुलिस आयुक्त (एसीपी) के नेतृत्व में एक विशेष टीम का गठन किया है।

पुलिस के अनुसार, संकेश्वर कस्बे की 28 वर्षीय महिला और रायबाग की उसकी दोस्त ने एक ऑटो चालक को पार्क में ले जाने के लिए कहा था। ऑटो चालक उन्हें पार्क में ले जाने के बजाय अमन नगर में सुनसान जगह पर ले गया था।

दूसरे धर्म के लड़के के साथ बाहर जाने पर लड़की को कथित तौर पर पीटा गया। शिकायत में लड़की ने कहा कि 20 सदस्यीय समूह ने उस पर और लड़के पर रॉड और डंडों से हमला किया था।

बदमाशों ने 50 हजार रुपए नकद, 20 हजार रुपए के मोबाइल फोन, आधार कार्ड और एटीएम कार्ड भी लूट लिए।

पुलिस उपायुक्त, विक्रम अमाते ने कहा कि घटना 14 अक्टूबर को हुई थी और लड़की ने बेलगावी के मालामरुथी पुलिस स्टेशन के तहत घटना के संबंध में पुलिस में शिकायत दर्ज की थी।

तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है और अन्य आरोपियों को पकड़ने के लिए एसीपी रैंक के पुलिस अधिकारी के तहत एक विशेष टीम का गठन किया गया है। उन्होंने कहा, हमने मामले को गंभीरता से लिया है। पीड़ित लोगों को खतरा महसूस होने पर हमारी आपातकालीन प्रतिक्रिया प्रणाली से संपर्क करना चाहिए।

मंगलवार को बेलगावी से नैतिक पुलिसिंग का एक और मामला सामने आया, जहां स्थानीय लोगों के एक समूह ने बेलगावी बस स्टैंड पर अपने दोस्तों से बात कर रही दो लड़कियों को पीटा।

समूह ने लड़कियों के हिजाब (फेस कवर) को हटाने की कोशिश की और दूसरे धर्म के लड़के से बात करने पर आपत्ति जताते हुए उनसे उनके माता-पिता के फोन नंबर मांगे। उनका नाम पूछा और गाली-गलौज की। हालांकि पुलिस मौके पर पहुंची और भीड़ को तितर-बितर किया। हालांकि युवती ने इस मामले में शिकायत दर्ज नहीं कराई थी।

हाल ही में, बेलगावी पुलिस ने लड़की के माता-पिता और एक हिंदू समूह के नेताओं को एक हिंदू लड़की के साथ संबंध होने के कारण दूसरे धर्म के एक युवक की हत्या करने के आरोप में गिरफ्तार किया था।

एसकेके/आरजेएस

Niharika Times We would like to show you notifications for the latest news and updates.
Dismiss
Allow Notifications