दिल्ली

अभिजीत मुखर्जी के ट्वीट ने मचाई हलचल, बोले, “मैं कांग्रेस में ही रहूँगा”

अभिजीत मुखर्जी ने बीते शुक्रवार को ये ट्वीट किया था की "मैंने इस बारे में किसी को कुछ भी नहीं बताया है।" जिसके बाद में उन्होंने डिलीट कर दिया।

अभिजीत मुखर्जी के ट्वीट ने मचाई हलचल, बोले, “मैं कांग्रेस में ही रहूँगा”

नई दिल्ली. पूर्व दिवंगत राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी के सुपुत्र अभिजीत मुखर्जी ने सभी अटकलों व अफवाहों पर विराम लगाते हुए कहा कि वह कांग्रेस नहीं छोड़ रहे है। Tv चैनलों व अखबारों में यह कहा कि अभिजीत मुखर्जी तृणमूल कांग्रेस में शामिल होंगे।
पूर्व सांसद अभिजीत मुखर्जी ने बीते शुक्रवार को ये ट्वीट किया था की “मैंने इस बारे में किसी को कुछ भी नहीं बताया है।”
जिसके बाद में उन्होंने डिलीट कर दिया।
समाचार एजेंसी PTI से मुखर्जी ने बातचीत में कहा कि ‘मैं कांग्रेस में ही रहूंगा। मेरे टीएमसी या किसी दूसरी पार्टी में शामिल होने की खबरें गलत हैं।

यह भी पढें, चिराग पासवान के खिलाफ बगावत, लोजपा में बड़ी फुट, चाचा ने किया तख्ता पलट

रिपोर्ट के मुताबिक बीते हफ्ते अभिजीत मुखर्जी ने टीएमसी नेताओं से मुलाकात की थी।
अटकलें यह हैं कि टीएमसी अभिजीत मुखर्जी को जंगीपुर विधानसभा सीट की पेशकश करेगी।
प्रणब मुखर्जी (उनके पिता) दो बार जंगीपुर संसदीय क्षेत्र से कांग्रेस सांसद बने थे। प्रणब मुखर्जी को 2012 में राष्ट्रपति पद का चुनाव लड़ने के लिए ये सीट छोड़नी पड़ी थी।

मुखर्जी ने मजाकिया लहजे में यह कहा की, “मैं अभी तृणमूल भवन से लगभग 300 किमी दूर जंगीपुर हाउस में बैठा हूं … इसलिए, जब तक कोई मुझे टेलीपोर्ट नहीं करता, मेरे लिए आज शाम किसी भी पार्टी में शामिल होना असंभव होगा।”

जब प्रणब मुखर्जी के पूर्व कांग्रेसी सहयोगी उनके यहां चाय पर आए थे, उस समय अभिजीत मुखर्जी के टीएमसी ज्वॉइन करने की अटकलों को बल मिला था।
मुखर्जी ने कहा कि ‘उनमें जंगीपुर से सांसद खलीलुर रहमान, मुर्शिदाबाद से सांसद अबू ताहिर खान और तृणमूल मंत्री अखरुज्जमां और सबीना यस्मीन शामिल थे।

उन्होंने बताया कि उन्होंने कहा, ‘‘मैं उन्हें लंबे समय से जानता हूं, क्योंकि वे मेरे पिता के करीब थे… मित्र मुझसे मिलने आए थे, इस आधार पर ऐसी अटकलें लगाना सही नहीं है कि मैं तृणमूल में शामिल हो जाऊंगा।’’
राष्ट्रपति बनने से पहले प्रणब मुखर्जी 2004 और 2009 में दो बार जंगीपुर से निर्वाचित हुए थे। उनके द्वारा शुरू की गई कई परियोजनाएं अब लागू हो चुकी हैं।

 

Tina Chouhan

Author, Editor, Web content writer, Article writer and Ghost writer

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker