दिल्लीभारत

डब्ल्यूएचओ ने डेल्टा वेरिएंट को लेकर अपील की, बोले- वैक्सीन लेने वाले भी सावधानी बरतें

डब्ल्यूएचओ ने कहा कि खतरनाक और अधिक संक्रामक डेल्टा वेरिएंट को फैलने से रोकने के लिए सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना, मास्क पहनना और अन्य सुरक्षा उपाय को नहीं छोड़ना चाहिए।

डब्ल्यूएचओ ने डेल्टा वेरिएंट को लेकर अपील की, बोले- वैक्सीन लेने वाले भी सावधानी बरतें

नई दिल्ली. दुनिया भर में कोरोना के डेल्टा वेरिएंट के फैलने की वजह से अब विश्व स्वास्थ्य संगठन ने अपील की है कि जिन लोगों ने टीके की दोनों खुराकें ले ली, वे भी मास्क पहनना न छोड़ें। डब्ल्यूएचओ ने कहा कि खतरनाक और अधिक संक्रामक डेल्टा वेरिएंट को फैलने से रोकने के लिए सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना, मास्क पहनना और अन्य सुरक्षा उपाय को नहीं छोड़ना चाहिए।
डब्लूएचओ की अधिकारी मरियांगेला सिमाओ ने कहा कि लोगों को सिर्फ इसलिए सुरक्षित महसूस नहीं करना चाहिए क्योंकि उन्होंने दोनों खुराके ले ली हैं। उन्हें अभी भी वायरस से खुदको बचाने की जरूरत है।

यह भी पढें, डेल्टा प्लस वेरिएंट से महाराष्ट्र को क्यों है सबसे ज्यादा खतरा? केंद्र ने समझाई वजह

सीएनबीसी के मुताबिक डब्लूएचओ हेडक्वॉर्टर में एक प्रेस ब्रीफिंग के दौरान सिमाओ ने कहा, ‘अकेले वैक्सीन कम्युनिटी ट्रांसमिशन को नहीं रोक सकती. लोगों को लगातार मास्क पहनना होगा, हवादार जगहों में रहना होगा, भीड़ से बचना होगा और हाथों को साफ रखना होगा. यह सब तब भी बहुत जरूरी है जब आप टीके की दोनों खुराकें ले चुके हों.’

डब्लूएचओ ने यह भी कहा है कि टीका पाए लोगों को सुरक्षा का ध्यान रखना होगा क्योंकि डेल्टा जैसे बेहद संक्रामक वेरिएंट्स भी कई देशों में फैल रहे हैं और दुनिया के एक बड़े हिस्से में टीका लगना अभी बाकी है. डेल्टा वेरिएंट सबसे पहले भारत में मिला था। विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक, यह अब करीब 85 देशों में फैल चुका है।

Tina Chouhan

Author, Editor, Web content writer, Article writer and Ghost writer

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker