दिल्लीभारत

Cabinet Expansion: भारत के इतिहास का सबसे युवा मंत्रिमंडल होगा विस्तार, कल शाम 6 बजे

Cabinet Expansion: मंत्रिमंडल विस्तार में अनुभव को भी तरजीह दी जानी है. इसके मद्देनज़र केंद्र ऐसे ब्यूरोक्रेट और टेक्नोक्रेट भी इस बार मंत्रिमंडल का हिस्सा होंगे. इन्हें कैबिनेट मंत्री

Cabinet Expansion: भारत के इतिहास का सबसे युवा मंत्रिमंडल होगा विस्तार, कल शाम 6 बजे

Cabinet Expansion: नरेंद्र मोदी सरकार में मंत्रिमंडल का विस्तार कल यानी बुधवार शाम 6 बजे होगा. इस मंत्रिमंडल के विस्तार के बाद ये भारत के इतिहास का सबसे युवा मंत्रिमंडल हो जाएगा. बताया जा रहा है कि इस बार कई युवा चेहरों को इसमें तरजीह दी जा रही है, जिसके चलते मंत्रिमंडल की औसत आयु काफी कम हो जाएगी. सूत्रों ने ये जानकारी दी.
इस दौरान 20 से ज्यादा मंत्री शपथ ले सकते हैं।
जिसमें सर्बानंद सोनोवाल, ज्योतिरादित्य सिंधिया और नारायण राणे शपथ ले सकते हैं।

यह भी पढ़े, नए मंत्रियों की लिस्‍ट हुई फाइनल, कैबिनेट में विस्तार से पहले दिल्ली बुलाए गए ये नेता

नई कैबिनेट में SC/ST और OBC चेहरो को तरजीह दी जा सकती है. विस्तार के बाद कैबिनेट में 25 ओबीसी चेहरे हो जाएंगेस ऐसा सूत्र बता रहे हैं. साथ ही खबर ये भी है कि टीम मोदी में हर राज्य से मंत्री बनाए जा सकते हैं, ताकि हर राज्य को प्रतिनिधित्व मिल सके. अनुभवी और युवा चेहरों का समावेश का भी खयाल रखा जा रहा है.

कैसा होगा मंत्रिमंडल?

मंत्रिमंडल विस्तार के ज़रिए महिलाओं का प्रतिनिधित्व बढ़ाया जा रहा है. प्रोफेशनल, मेनेजमेंट, MBA, पोस्ट ग्रेजुएट युवाओं को शामिल किया जा रहा है. बड़े राज्य को ज़्यादा हिस्सेदारी दी जाएगी. बुंदेलखंड, पूर्वांचल, मराठवाड़ा, कोंकण जैसे इलाक़ों को हिस्सेदारी दी जा रही है.

मंत्रिमंडल में छोटे से छोटे समुदायों को भी प्रतिनिधित्व दिया जा रहा है. इस बार यादव, कुर्मी, जाट, क़हार, पासी, कोरी, लोधी आदि समाज का प्रतिनिधित्व दिखेगा. दो दर्जन ओबीसी या पिछड़ा वर्ग के मंत्री इस विस्तार के बाद मंत्रिमंडल में हो जाएंगे.

सूत्रों के मुताबिक इस बार के मंत्रिमंडल विस्तार के बाद पिछड़े वर्ग के मंत्रियों की संख्या 25 हो जाएगी. एससी समाज से आने वाले मंत्रियों की संख्या में भी इज़ाफा होगा. माना जा रहा है कि इस बार मोदी सरकार मंत्रिमंडल में लगभग हर समाज के नेता या उससे जुड़े किसी न किसी शख्स को जगह देने जा रही है.

खास बात ये है कि मंत्रिमंडल विस्तार में अनुभव को भी तरजीह दी जानी है. इसके मद्देनज़र केंद्र ऐसे ब्यूरोक्रेट और टेक्नोक्रेट भी इस बार मंत्रिमंडल का हिस्सा होंगे. इन्हें कैबिनेट मंत्री से लेकर राज्य मंत्री तक का पद दिया जा सकता है।

 

Tina Chouhan

Author, Editor, Web content writer, Article writer and Ghost writer

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker