दिल्लीभारत

Jyotiraditya Sindhiya के मंत्री बनने पर कांग्रेस ने की टिप्पणी, मीम शेयर कर बताया बिकाऊ….

Jyotiraditya Sindhiya को मोदी कैबिनेट के फेरबदल में बड़ा इनाम मिला है। उन्हें नागरिक उड्डयन मंत्रालय सौंपा गया है। यह पद उन्हें मध्य प्रदेश में सीएम कमलनाथ....

Jyotiraditya Sindhiya के मंत्री बनने पर कांग्रेस ने की टिप्पणी, मीम शेयर कर बताया बिकाऊ….

नई दिल्ली. कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल होने वाले Jyotiraditya Sindhiya को मोदी कैबिनेट के फेरबदल में बड़ा इनाम मिला है। उन्हें नागरिक उड्डयन मंत्रालय सौंपा गया है। यह पद उन्हें मध्य प्रदेश में सीएम कमलनाथ की सरकार गिराने और भाजपा को राज्य में सत्ता में वापस लाने के करीब सवा साल बाद दिया गया है। हालांकि, कांग्रेस ने उनके कैबिनेट मंत्री पद संभालते ही तंज कसा है। पार्टी की युवा इकाई के अध्यक्ष श्रीनिवास बीवी ने उनकी तुलना एयर इंडिया से की और एक मीम शेयर किया, जिसमें दर्शाया गया है कि ‘एयर इंडिया और सिंधिया दोनों बिकाऊ’

 

भाजपा ने इस पर कड़ी प्रतिक्रिया दी और इसे विपक्षी पार्टी की हताशा करार दिया।
यह मीम सबसे पहले कांग्रेस की मध्य प्रदेश इकाई ने इंटरनेट मीडिया अकाउंट पर लगाया था, लेकिन जब इसे श्रीनिवास ने साझा किया तो बड़ी संख्या में लोगों का ध्यान इस ओर गया। इस मीम में एयर इंडिया का शुभंकर महाराजा सिंधिया से कहता है, आइये महाराज, हम दोनों बिकाऊ हैं। इसके नीचे चित्र परिचय लिखा है-रब ने बना दी जोड़ी। इससे पहले गुरुवार की रात मध्य प्रदेश कांग्रेस ने मीम साझा करते हुए लिखा-बिकाऊ को बेचने का काम मिला, गद्दारी का उसे कुछ यूं इनाम मिला। इसके जवाब में भाजपा के प्रवक्ता गौरव भाटिया ने कहा कि सिंधिया जैसे युवा नेता की इस तरह से आलोचना करना कांग्रेस की हताशा को दिखाता है।उन्होंने कहा कि सिंधिया जैसे एक युवा नेता को निशाना बनाने के लिए इस तरह के शब्दों का इस्तेमाल करना विपक्षी पार्टी की हताशा को दिखाता है।

यह भी पढ़े, Modi Cabinet reshuffle: पिता के नक्शे कदम पर चलेंगे यह नेता, आज से 30 साल पहले पिता ने संभाला था नागरिक उड्डयन मंत्रालय

बिकाऊ’ शब्द का इस्तेमाल करने के लिए कांग्रेस को निशाने पर लेते हुए भाटिया ने कहा कि यह उन लोगों की ओर से कहा जा रहा है, जो भ्रष्टाचार के मामले में जमानत पर हैं।

सिंधिया के भाजपा में जाने के बाद से ही नाराज हैं कांग्रेस नेता: कभी कांग्रेस के कद्दावार नेता रहे सिंधिया ने 10 मार्च 2020 को कांग्रेस छोड़ी थी और 11 मार्च 2020 को भाजपा में शामिल हुए थे। उनके साथ ही 22 कांग्रेस विधायकों ने भी इस्तीफा दे दिया था, जिससे मध्यप्रदेश में कमलनाथ के नेतृत्व वाली 15 महीने पुरानी कांग्रेस सरकार गिर गई थी और 23 मार्च 2020 को भाजपा के शिवराज सिंह चौहान चौथी बार प्रदेश के मुख्यमंत्री बने

तत्कालीन कमलनाथ सरकार गिरने के कुछ दिन पहले टीकमगढ़ में एक सभा में Jyotiraditya Sindhiya ने चेतावनी दी थी कि यदि कमलनाथ के नेतृत्व वाली तत्कालीन सरकार ने पार्टी के घोषणा पत्र के वादे पूरे नहीं किये तो वह ‘सड़क पर उतर जायेगें’। इस चेतावनी पर कमलनाथ ने कहा था, ‘‘तो उतर जायें सड़क पर।’’ इसके बाद सिंधिया कांग्रेस छोड़ भाजपा में शामिल हो गये और 22 बागी कांग्रेस विधायकों के जरिए कमलनाथ की सरकार गिरवा दी।

इसके बाद सिंधिया मध्यप्रदेश की राज्यसभा सीट से भाजपा की टिकट पर सांसद बने और अब सवा साल बाद भाजपा नीत केंद्रीय सरकार में मंत्री बन गए हैं। उन्होंने शुक्रवार को अपने मंत्रालय का कार्यभार संभाल लिया।

 

Tina Chouhan

Author, Editor, Web content writer, Article writer and Ghost writer

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker