दिल्लीभारत

Lockdown latest news: इन राज्यों में फिर लग सकता है लॉक डाउन, केंद्र सरकार ने इन राज्यों को दिए निर्देश

Lockdown latest news: केंद्र सरकार ने पश्चिम बंगाल , असम, त्रिपुरा, राजस्थान और केरल सहित अन्य 14 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को पत्र लिखकर उन तहसीलों में कोरोना संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए सख्त से सख्त कदम उठाने के निर्देश दिए हैं।

Lockdown latest news:

नई दिल्ली. कोरोना वायरस के तीसरी लहर की आशंका को देखते हुए केंद्र सरकार एक बार फिर सख्त हो गई है। केंद्र ने ऐसे राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को सख्त कदम उठाने के निर्देश दिये हैं, जहाँ अभी भी पॉजिटिविटी रेट 10 फीसदी से ज्यादा है। केंद्र सरकार ने पश्चिम बंगाल , असम, त्रिपुरा, राजस्थान और केरल सहित अन्य 14 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को पत्र लिखकर उन तहसीलों में कोरोना संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए सख्त से सख्त कदम उठाने के निर्देश दिए हैं जहां 21 से 27 जून के बीच संक्रमण दर 10 प्रतिशत से अधिक रही।

यह भी पढ़े, कोवैक्सीन अल्फा व डेल्टा दोनों वेरियंट पर है असरदार, NIH ने किया दावा

केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने 29 जून को लिखे पत्र में कहा, ‘इसलिए, पूरे राज्य में नियंत्रित और सतर्कता के साथ पाबंदियों में ढील और गतिविधियों की अनुमति दी जानी चाहिए.’ यह पत्र राजस्थान, मणिपुर, सिक्किम, त्रिपुरा, पश्चिम बंगाल, पुडुचेरी, ओडिशा, मेघालय, मिजोरम, नागालैंड, केरल, अरुणाचल प्रदेश, हिमाचल प्रदेश और असम को भेजा गया है।

पत्र में इन राज्यों से अनुरोध किया गया है कि उन जिलों में संक्रमण दर कम करने के लिए और वायरस के प्रसार को रोकने के लिए सख्त कदम उठाएं जहाँ संक्रमण दर 10 प्रतिशत से अधिक है और उसके अनुरूप हस्तक्षेप करें।

Lockdown latest news

पत्र में कहा गया है, ‘इसलिए, आपसे अनुरोध किया जाता है कि कृपया कर इन जिलों में संक्रमण दर कम करने के लिए और वायरस के प्रसार को रोकने के लिए सख्त कदम उठाएं और उसके अनुरूप हस्तक्षेप करें.’ भूषण ने पत्र में कहा, ‘जिला कार्य योजना के तत्वों, जैसे मामलों की निगरानी, वार्ड और ब्लॉक वार संकेतों की समीक्षा, प्रभावी निगरानी और त्वरित आधार पर संक्रमित को पृथक करना या अस्पताल में भर्ती कराना, 24 घंटे आपात केंद्र का संचालन, कमान प्रणाली और निषिद्ध क्षेत्र में सख्त मानक परिचालन प्रक्रिया (एसओपी) की रणनीति को भी विस्तृत तरीके से और सख्ती से लागू किया जाना चाहिए.’

 

 

Tina Chouhan

Author, Editor, Web content writer, Article writer and Ghost writer

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker