पर्यावरण / वन्यजीव

भारतीय भूविज्ञान सर्वेक्षण के अधिकारी भूकंप के झटकों की वजह जानने के लिए जांच करेंगे

चेन्नई, 26 दिसम्बर (आईएएनएस)। भारतीय भूविज्ञान सर्वेक्षण (जीएसआई) के अधिकारी तमिलनाडु के वेल्लोर जिले के पेरमपेट गांव में विस्तृत जांच करेंगे, जहां 21 दिसंबर से हल्के झटके आ रहे हैं।

शनिवार को भूकंप के झटके तेज थे जिससे कई मिट्टी की झोपड़ियों में दरारें आ गईं।

मीडियाकर्मियों को संबोधित करते हुए, वेल्लोर के जिला राजस्व अधिकारी, के राममूर्ति ने कहा कि ग्रामीणों ने बताया कि 21 दिसंबर को इलाके में हल्के झटके आ आए थे। हालांकि, शनिवार को दोपहर 1 बजे से शाम 4 बजे के बीच झटके आए। इससे करीब 12 मिट्टी की झोपड़ियों की दीवारों में दरारें आ गई हैं।

उन्होंने कहा कि जिले के अधिकारियों ने क्षेत्र के आगे के परीक्षण और भूकंप के कारणों का पता लगाने के लिए जीएसआई अधिकारियों को पहले ही सूचित कर दिया है।

पेरमपेट और उसके आसपास कोई खदान नहीं होने के कारण, जिला राजस्व अधिकारियों ने विस्फोटों से झटके लगने की संभावना से इनकार किया है।

पेरमपेट गांव के एक किसान एल स्वामीनाथन ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि जिला अधिकारी शनिवार को यहां पहुंचे और कहा कि जीएसआई के अधिकारियों को सूचित किया जाएगा और हम जीएसआई अधिकारियों और वैज्ञानिकों से इन आवर्ती झटकों पर उचित जानकारी प्रदान करने की उम्मीद कर रहे हैं।

–आईएएनएस

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें निहारिका टाइम्स हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Niharika Times Android Hindi News APP