Health and Fitness

गर्ल्स और वीमेन के लिए कुछ खास 4 एक्सरसाइज दस मिनट रोज करे और देखे चमत्कार

गर्ल्स और वीमेंस आज कल फिटनेस पर ध्यान नही देती और काम मे व्यस्त रहती है। कुछ महिलाओं के पास इतना समय नही होता कि वो ढेर सारी एक्सरसाइज करके अपने आपको फिट बनाये

गर्ल्स और वीमेन के लिए कुछ खास 4 एक्सरसाइज दस मिनट रोज करे और देखे चमत्कार

Health Tips. आपके शरीर को फिजिकल फिटनेस की बहुत जरूरत होती है जो आपको दिनभर चुस्त दुरुस्त बनाने के साथ आपके दिमाग को भी साफ रखें। कुछ गर्ल्स महिलाओं के पास इतना समय नही होता कि वो ढेर सारी एक्सरसाइज करके अपने आपको फिट बनाये। इसलिये ऐसी गर्ल्स व महिलाओं के लिए हम कुछ खास एक्सरसाइज लाए है।जो रोजाना सिर्फ दस मिनट करे और अपनी बॉडी को फिट रखे। इन एक्सरसाइज की खास बात यह है कि ये वे महिलाएं भी कर सकती है जो नई है कभी एक्सरसाइज नही करती।

वॉकिंग:

फिटनेस रूटीन की शुरुआत करने की लिए सबसे पहले वाकिंग करनी चाहिए। क्योंकि ये सबसे सरल एक्सरसाइज है। यह आपके शरीर पर बहुत कम स्ट्रेस डालता है। और इसमें कोई जोखिम नही होता। यह गर्ल्स व सभी आयु की महिलाओं के लिए उपयुक्त है। पैदल चलने से ह्रदय रोग का खतरा कम होता है। ब्लड प्रेशर कंट्रोल में रहता है। डायबिटीज के विकास का जोखिम कम कर सकता है। आपके मूड को सुधारता है।

यह भी पढें, व्यायाम: यदि आप भी इन गलत कामों को करेंगे तो हो जाएंगे जल्दी बूढे

स्क्वाट्स:

आपको वॉकिंग के साथ-साथ स्क्वाट्स भी ट्राई करना चाहिए। आपके निचले शरीर को टोन करने की तुलना में स्क्वाट्स के बहुत अधिक फायदे हैं। यह पेट और पीठ की मसल्‍स सहित आपकी मुख्य मसल्‍स पर काम करता है। साथ ही आपके पोश्‍चर में सुधार करता है और बेहतर डाइजेशन में भी मदद करता है। अगर वजन कम करना आपके लिए चिंता का विषय है, तो स्क्वाट्स आपके शरीर की एक्‍सट्रा फैट को बर्न करने में आपकी मदद करती है।

गर्ल्स और वीमेन के लिए कुछ खास 4 एक्सरसाइज दस मिनट रोज करे और देखे चमत्कार

गर्ल्स और वीमेन के लिए कुछ खास 4 एक्सरसाइज दस मिनट रोज करे और देखे चमत्कार
गर्ल्स और वीमेन के लिए कुछ खास 4 एक्सरसाइज दस मिनट रोज करे और देखे चमत्कार

पुश-अप्स:

पुश-अप्स आसान बेसिक वर्कआउट हैं जो आपकी मसल्‍स की ताकत में सुधार करता है और आपके शरीर को टोन कर सकता है। यह आसान वर्कआउट है जिसे बढ़ती उम्र की महिलाएं भी बहुत ही आसानी से कर सकती हैं। अगर आपसे जमीन पर नीचे न झुका जाएं तो आप इसे बेड या दीवार के सहारे कर सकती हैं। भले ही पुश-अप्स विशेष रूप से आपके कंधों, चेस्‍ट और बाजुओं की मसल्‍स पर काम करते हैं, आप अन्य मसल्‍स में कुछ बदलाव करके उन्हें टोन कर सकती हैं। पुश-अप्स सभी आयु समूहों के लिए एकदम सही हैं, बस सुनिश्चित करें कि आप इसे सही तरीके से कर रही हैं।

प्‍लैंक:

प्लैंक सिर्फ एब एक्सरसाइज नहीं है बल्कि यह कई तरह से आपको फायदा पहुंचाती है। अगर आपका लाइफस्‍टाइल गतिहीन हैं तो यह एक्‍सरसाइज आपके लिए एकदम सही है क्योंकि यह बैलेंस और पोश्चर में सुधार करता है और पीठ के निचले हिस्से के दर्द को कम करने में भी मदद करती है। यह आपकी कोर की मसल्‍स, बाजुओं, गर्दन, पीठ, हिप्‍स और पैरों को मजबूत करती है। अगर इसे सही तरीके से किया जाए तो डेली एक्टिविटी को बेहतर ढंग से किया जा सकता है। अगर आप खुद को चुनौती देना चाहती हैं तो कुछ प्लैंक वेरिएशन ट्राई करें।

आसान लेकिन प्रभावी एक्‍सरसाइज पर ध्यान दें, जिन्हें आपको अपनी फिटनेस रूटीन में शामिल करना चाहिए। अगर अभी तक आपके पास फिटनेस रूटीन नहीं है तो अभी से बनाएं। ये आपको बढ़ती उम्र में भी शारीरिक रूप से एक्टिव रहने में मदद करते हैं। हर दिन इन एक्‍सरसाइज को करें और अपनी मसल्‍स को मजबूत करें।

 

Tina Chouhan

Author, Editor, Web content writer, Article writer and Ghost writer

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker