Health and Fitness

बालों को समय से पहले सफेद होने से रोके यह सात योगासन

बालों का सफेद होना आजकल बहुत आम हो गया है, मुख्य रूप से उच्च स्तर के तनाव,जीवनशैली में बदलाव और कुछ पोषक तत्वों की कमी। लेकिन योगासन से आप चमकदार व काले बाल फिर से पा सकते हैं।

बालों को समय से पहले सफेद होने से रोके यह सात योगासन 

समय से पहले बाल सफेद होना आजकल बहुत आम हो गया है, मुख्य रूप से उच्च स्तर के तनाव,जीवनशैली में बदलाव और कुछ पोषक तत्वों की कमी। लेकिन योगासन से आप चमकदार व काले बाल फिर से पा सकते हैं। आइये जाने कैसे….

उष्ट्रासन:
उष्ट्रासन रक्त के प्रवाह को खोपड़ी की ओर निर्देशित करता है, जिससे बालों के विकास को बढ़ावा मिलता है। इसके अलावा, यह थायरॉयड ग्रंथि की असामान्यताओं को भी संतुलित करता है, जिससे बालों का झड़ना भी कम हो सकता है। खोपड़ी में रक्त परिसंचरण में वृद्धि के कारण, उष्ट्रासन बालों को समय से पहले सफेद होने से रोक सकता है।

पवनमुक्तासन:
पवनमुक्तासन पाचन को बढ़ावा देता है और कब्ज से राहत देता है, जो बालों के खराब स्वास्थ्य से जुड़ा है। यह पाचन संबंधी सभी समस्याओं को दूर करता है। इसका मतलब है कि आपके बालों को सभी पोषक तत्वों की अच्छाई मिलती है। यह स्वस्थ बालों के विकास को बढ़ावा देता है, और आपके दिमाग को भी शांत करता है।

यह भी पढें, करेले से आती है बालो में चमक और डेंड्रफ से मिलता है छुटकारा

वज्रासन:
यह डायमंड पोज़ या वज्रासन पोज़ के रूप में भी जाना जाता है, वज्रासन पाचन में मदद करता है, जो बदले में बालों की कोशिकाओं को पोषक तत्वों की आपूर्ति करने में मदद कर सकता है। इस प्रकार उन्‍हें टूटने और क्षति से रोकता है।इसके अलावा, यह मुद्रा तनाव और चिंता को दूर करने के लिए भी प्रसिद्ध है, जो भूरे बालो और बालो के झड़ने का सबसे आम कारण हैं। आप भोजन के बाद इसका अभ्यास कर सकते हैं।

अधो मुख श्‍वानासन:
नीचे की ओर मुंह करके डॉग पोज़ का अभ्यास करने से आप तनाव से दूर रहेंगे, जिससे समय से पहले सफेद या भूरे बालों का बढ़ना कम हो जाएगा। साथ ही, यह आपके स्कैल्प के लिए सकारात्मक रूप से काम करता है। ये आपके बालों के प्राकृतिक रंग को जीवित रख सकती हैं।यह मुद्रा बालो के विकास को बढ़ावा देने, खोपड़ी में रक्त के प्रवाह को प्रोत्साहित करने में भी मदद करता है।

नाखून रगड़ना:
नाखून रगड़ने को बालयम योग के नाम से भी जाना जाता है। यह एक आराम देने वाला व्यायाम है, जो खोपड़ी में रक्त के प्रवाह और ऑक्सीजन को उत्तेजित करने में मदद करता है। जिससे बालो के रोम को फिर से जीवंत करने में मदद मिलती है।साथ ही, यह योगाभ्यास बालों की टोन और वॉल्यूम को बढ़ाता है, सफेद बालों को बढ़ने से रोकता है।

आगे की ओर झुकना:
यह मुद्रा पीठ और पैरों को फैलाती है, और इसमें शरीर को आगे की ओर मोड़ना शामिल है। यह खोपड़ी में रक्त के प्रवाह को बढ़ाने में मदद करता है। यह मुद्रा मस्तिष्क को शांत करने में मदद करता है, जिससे तनाव और हल्के अवसाद से राहत मिलती है, जो बालों के खराब स्वास्थ्य के प्रमुख कारक हैं।

शीर्षासन:
सिर को उल्टा लटकाने से स्कैल्प में रक्त का प्रवाह बढ़ जाता है, जिससे बालो विकास होता है। यह आसन तनाव को दूर करने में मदद करता है और आपके दिमाग को शांत करता है, जिससे बालों का झड़ना, गंजापन और बालो का पतला होना कम हो जाता है। साथ ही, यह आसन बालों को समय से पहले सफेद होने से रोकने में भी फायदेमंद है और नए बालो को दोबारा उगाने में मदद करता है।साथ ही आप हमेशा स्वस्थ और पौष्टिक आहार लें।

Tina Chouhan

Author, Editor, Web content writer, Article writer and Ghost writer

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker