स्वास्थ्य

उबले अंडे खाने से हो सकता है साइड इफेक्ट, जिम जाने वाले लोग हो जाये सावधान

उबले अंडे की डाइट पर एक रिपोर्ट जारी की है, जो ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर काफी सुर्खियों में है. WH के मुताबिक, बॉइल एग लीन प्रोटीन (मछली और चिकन), बिना स्टार्च...

उबले अंडे खाने से हो सकता है साइड इफेक्ट, जिम जाने वाले लोग हो जाये सावधान

बॉयल एग (उबला अंडा) को प्रोटीन का अच्छा स्रोत माना जाता है. मांसपेशियों की मजबूती से लेकर शारीरिक विकास में प्रोटीन की बड़ी भूमिका होती है. इसलिए इसे प्रोटीन का राजा भी कहा जाता है. जिम जाने वाले लोग उबले अंडे की खूबियों से खूब वाकिफ हैं. लेकिन क्या आप जानते हैं सेहत को फायदा पहुंचाने वाले बॉयल्ड एग के कुछ साइइ इफेक्ट भी होते हैं।

यह भी पढ़े, परवल को बनाये अपनी डाइट का हिस्सा, इसके फायदे जानकर रह जाएंगे हैरान

Women’s Health ने हाल ही में उबले अंडे की डाइट पर एक रिपोर्ट जारी की है, जो ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर काफी सुर्खियों में है. WH के मुताबिक, बॉइल एग लीन प्रोटीन (मछली और चिकन), बिना स्टार्च वाली सब्जियां (पत्तेदार सब्जियां, ब्रोकली, शिमला मिर्च, शतावरी और गाजर) कुछ चुनिंदा फल (बैरीज, नींब, चकोतरा और तरबूज) कम फैट वाली चीजों (मक्खन, मियोनीज और कोकोनट तेल) की लिस्ट में शामिल है।

एक रजिस्टर्ड डायटिशियन और न्यूट्रशनिस्ट एरिन पलिन्स्की वेड के मुताबिक, ब्रेकफास्ट में लोग अक्सर उबले अंडों को फलों के साथ खाते हैं. जबकि लंच और डिनर में वे इसे किसी सब्जी या लीन प्रोटीन के साथ थाली में परोसते हैं।

डाइट से कार्बोहाइड्रेट घटाने पर हमारा वजन कम होने लगता है. लेकिन स्लिम फिट रहने के लिए इसे हेल्दी तरकीब नहीं कहा जा सकता है. पलिन्स्की कहती हैं कि बॉयल्ड एग डाइट की सबसे बड़ी परेशानी ये है कि इस पर निर्भर रहने से हमारे शरीर को वो तमाम पोषक तत्व नहीं मिल पाते हैं जिसकी उसे जरूरत होती है.

WH ने एक अन्य रजिस्टर्ड डाइटीशियन और न्यूट्रिशनिस्ट केरी के हवाले से खाने की उन तमाम चीजों के बारे में बताया जो उबले अंडे के कारण हमारी डाइट से बाहर हो जाती हैं. दरअसल बॉइल एग डाइट के कारण प्रोसेस्ड फूड, आलू, मक्का, मटर और फली जैसी सब्जियां छूट जाती हैं.

बॉइल एग डाइट फॉलो करने वालों को केला, अनानास, आम, ड्राई फ्रूट्स और मीठे पेय पदार्थ एवॉइड करने के लिए कहा जाता है. ऐसा करना आपकी सेहत के लिए क्यों सही नहीं है? इसे एक नई स्टडी में बताए गए उदाहरण से समझा जा सकता है. जो बताता है कि कार्डियोवस्क्यूलर हेल्थ के लिए साबुत अनाज खाना कितना जरूरी है और ये

कैसे वजन घटाने में भी कारगर है:

दो उबले हुए अंडों को एक अच्छा स्नैक्स माना जाता है. लेकिन क्या इसे दिनभर खाना ठीक है? पलिन्स्की इसे ज्यादातर लोगों के लिए सही नहीं मानती हैं. यह याद रखना भी जरूरी है कि सेहत को फायदा पहुंचाने वाले पोषक तत्वों के साथ-साथ अंडे में कॉलेस्ट्रोल और सैचुरेटेड फैट भी होता है जो हमारे लिवर और दिल की सेहत को नुकसान पहुंचा सकता है

साल 2010 में कैनेडियन जर्नल ऑफ कार्डियोलॉजी में प्रकाशित एक रिपोर्ट के मुताबिक, रोजाना अंडे खाने वाले लोगों में कार्डियोवस्क्यूलर डिसीज (हृदय संबंधी बीमारियां) का खतरा करीब 20 प्रतिशत ज्यादा होता है. अगर आप सप्ताह में दो अंडे दो से तीन बार तक खा रहे हैं तो चिंता करने की जरूरत नहीं है.

 

Tina Chouhan

Author, Editor, Web content writer, Article writer and Ghost writer