स्वास्थ्य

घर मे तुलसी का पौधा लगाते समय रखे इन खास बातों का ध्यान, नही तो पड़ सकता है बुरा प्रभाव

घर मे तुलसी का पौधा लगाते समय रखे इन खास बातों का ध्यान, नही तो पड़ सकता है बुरा प्रभाव

आपने अधिकतर घरों में तुलसी का पौधा लगा देखा होगा। तुलसी का पौधा वास्तु की दृष्टि से बहुत ही शुभ माना जाता है। इसे घर में लगाने से वास्तु संबंधी समस्याएं समाप्त हो जाती हैं। शास्त्रों में तुलसी के पौधे को लक्ष्मी का रूप बताया गया है यानि जहां पर तुलसी होती है वहां लक्ष्मी जी का आगमन होता ही है। यह एक अद्भुत औषधीय पौधा है।

यह भी पढ़े, परवल को बनाये अपनी डाइट का हिस्सा, इसके फायदे जानकर रह जाएंगे हैरान

तुलसी का पौधा घर में लगाने से निगेटिव ऊर्जा नष्ट होती है और पॉजिटिव ऊर्जा बढ़ती है। तुलसी का पौधा घर में आने वाली नकारात्मक ऊर्जा को रोकने के लिए भी एक अच्छा उपाय है। साथ ही यह परिवार की आर्थिक स्थिति के लिए भी शुभ होता है। तुलसी का पौधा घर में होने से मन को शांति और प्रसन्नता मिलती है

वहीं धर्म ग्रंथों के अनुसार जिस घर पर कोई मुसीबत आने वाली होती है तो उस घर से सबसे पहले लक्ष्मी यानी कि तुलसी चली जाती है क्योंकि दरिद्रता, अशांति या क्लेश जहां भी होता है वहां मां लक्ष्मी का निवास कभी नही होता।

इस दिशा में तुलसी लगाना माना जाता है शुभ
घर में तुलसी के पौधा लगाने के लिए उत्तर, उत्तर-पूर्व या पूर्व दिशा का चुनाव करना चाहिए। इसके अलावा आप चाहे तो ईशान कोण यानि उत्तर-पूर्व दिशा में भी इसे रख सकते हैं। तुलसी को रसोई के पास भी रख सकते है। ऐसा करने से आपके घर की पारिवारिक कलह खत्म हो जाएगी।

इस दिशा में ना लगाएं तुलसी का पौधा:

घर की दक्षिण दिशा में तुलसी का पौधा नहीं लगाना चाहिए, क्योंकि इससे आपको नुकसान हो सकता है।

घर में ना रखें इस तरह का तुलसी का पौधा
घर में कभी भी सूखा तुलसी का पौधा नहीं रखना चाहिए। इस तरह के पौधे को कुएं या किसी पवित्र स्थान पर बहा देना चाहिए और उस जगह पर नया पौधा लगाना चाहिए।

दरअसल, तुलसी का पौधा बुध के कारण सूखता है, क्योंकि बुध ग्रह हरे का प्रतीक होता है और पेड़-पौधे, हरियाली के प्रतीक होते हैं। यह एक ऐसा ग्रह है जो दूसरों ग्रहों के अच्छे और बुरे प्रभाव जातक तक पंहुचाता है। बुध के प्रभाव से ही तुलसी के पौधे में फूल लगने लगते हैं।

छत पर ना रखें तुलसी का पौधा:

वास्तु में तुलसी के पौधे को छत पर रखने से दोष लगता है। इससे आपकी कुंडली में बुध की स्थिति कमजोर होती है। बुध का कमजोर होने का मतलब है कि घर में पैसों की कमी होना। अगर आपके घर में छत के अलावा कोई जगह नहीं है तो आप इसके साथ केले का पेड़ लगाएं। इन दोनों पेड़ों को एक साथ रोली से जोड़कर लगाएं।

इस दिन तुलसी में ना चढ़ाए जल:

प्रत्येक रविवार, एकादशी और सूर्य व चंद्र ग्रहण के समय तुलसी में जल नहीं चढ़ाना चाहिए। साथ ही इन दिनों में और सूर्य छिपने के बाद तुलसी के पत्ते नहीं तोड़ने चाहिए।

गुरुवार को दूध चढ़ाना माना जाता है शुभ
जो व्यक्ति गुरुवार के दिन तुलसी के पौधे में कच्चा दूध डालता है और रविवार को छोड़कर प्रतिदिन शाम को घी का दीपक जलाता है, उसके घर में सदा मां लक्ष्मी का वास रहता है।

Tina Chouhan

Author, Editor, Web content writer, Article writer and Ghost writer