जो गेंदें मेरे पाले में थीं मुझे उन्हें मारना था : ईशान किशन

Jaswant singh
3 Min Read

मोहाली, 4 मई ()। पंजाब किंग्स के खिलाफ 75 रन की मैच विजयी पारी खेलने वाले मुम्बई इंडियंस के विकेटकीपर बल्लेबाज ईशान किशन ने कहा है कि जो गेंदें उनके पाले में आ रही थीं उन्हें उन गेंदों को मारना था।

प्लेयर ऑफ द मैच बने किशन ने सात चौकों और चार छक्कों की मदद से 75 रन की शानदार पारी खेली। उनका स्ट्राइक रेट 182.93 रहा और उन्होंने सूर्यकुमार यादव के साथ तीसरे विकेट के लिए 116 रन की मैच विजयी साझेदारी की जिससे मुम्बई ने 215 के लक्ष्य का सफलतापूर्वक पीछा कर लिया और सात गेंद शेष रहते छह विकेट से मुकाबला जीत लिया।

मैच समाप्त होने के बाद किशन ने कहा, यह विकेट बल्लेबाजी के लिए बहुत अच्छा था। मैंने 20 ओवर कीपिंग की और मुझे पता था कि विकेट कैसा खेल रहा है। शुरूआत में गेंद स्विंग कर रही थी तो मुझे आगे बढ़कर खेलना पड़ा। अगर आप 215 चेज कर रहे हैं तो आपको सोचना कम होता है और जोखिम लेने होते हैं। मेरे पाले में जो भी गेंद आती थी मुझे उसे मारना होता था।

यह जोड़ी अंतिम ओवरों में निपट गयी। तिलक वर्मा और टिम डेविड ने अटैक जारी रखते हुए लक्ष्य को सात गेंद शेष रहते हासिल कर लिया। इस जीत से मुम्बई के 10 अंक हो गए हैं और वह तालिका में पंजाब से आगे निकलकर छठे स्थान पर पहुंच गया है।

किशन ने कहा, मुझे नहीं लगता कि जब आप लक्ष्य का पीछा कर रहे हैं और उनके पास अच्छा गेंदबाजी आक्रमण है। आप इसे आखिरी ओवर तक नहीं ले जाना चाहते। आप उसे जितना जल्दी हो फिनिश करना चाहते हैं जिससे नए बल्लेबाज के लिए चीजें आसान रहे।

किशन ने अपनी मां को अपने हिटिंग गेम को सुधारने का श्रेय देते हुए कहा, अब क्रिकेट में फिटनेस का बहुत महत्व है और इसका क्रेडिट मेरी मम्मी के खाने को भी जाता है।

मुम्बई का अगला मैच शनिवार दोपहर को चेन्नई में चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ होगा।

आरआर

Share This Article