भारत

उपचुनाव : भाजपा को मिली 1 लोकसभा सीट, 4 विधानसभा क्षेत्रों में झटका

नई दिल्ली, 16 अप्रैल ()। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को शनिवार को घोषित उपचुनावों के नतीजों में एक लोकसभा सीट मिली और चार विधानसभा क्षेत्रों में करारी हार का सामना करना पड़ा।

पश्चिम बंगाल की आसनसोल लोकसभा सीट से पूर्व केंद्रीय मंत्री और तृणमूल कांग्रेस के उम्मीदवार शत्रुघ्न सिन्हा ने 3 लाख से अधिक मतों से जीत हासिल की।

नरेंद्र मोदी सरकार में पूर्व मंत्री और तृणमूल कांग्रेस के उम्मीदवार बाबुल सुप्रियो ने बालीगंज विधानसभा क्षेत्र से जीत हासिल की।

लोकसभा और विधानसभा क्षेत्रों में जहां मतदान हुआ, उनमें से केवल एक आसनसोल सीट ऐसी है, जो पिछले चुनावों में भाजपा ने जीती थी।

सुप्रियो ने 2014 और 2019 में दो बार आसनसोल लोकसभा सीट से जीत हासिल की और नरेंद्र मोदी सरकार में उन्हें राज्यमंत्री बनाया गया था।

पिछले साल जुलाई में कैबिनेट फेरबदल के दौरान सुप्रियो को केंद्रीय मंत्रिपरिषद से हटा दिया गया था।

बाद में उन्होंने तृणमूल कांग्रेस में शामिल होने के लिए भाजपा और लोकसभा से इस्तीफा दे दिया।

अभिनेता से नेता बने शत्रुघ्न सिन्हा ने भाजपा के अग्निमित्र पॉल को हराया। सिन्हा ने अपने राजनीतिक जीवन की शुरुआत भाजपा से की थी और 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले कांग्रेस में शामिल होने के लिए पार्टी छोड़ दी थी। बाद में वह ममता बनर्जी की तृणमूल कांग्रेस में शामिल हो गए।

पिछले महीने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री बनर्जी ने सिन्हा को तृणमूल कांग्रेस का उम्मीदवार घोषित किया था।

पिछले साल तृणमूल कांग्रेस में शामिल होने के लिए सुप्रियो के इस्तीफा देने के बाद आसनसोल के लिए उपचुनाव जरूरी हो गया था।

बालीगंज विधानसभा क्षेत्र से तृणमूल ने सुप्रियो को मैदान में उतारा, उन्होंने भाजपा के किया घोष और माकपा की सायरा शाह हलीम को हराया।

पश्चिम बंगाल के मंत्री सुब्रत मुखर्जी के निधन के बाद बालीगंज विधानसभा उपचुनाव कराना पड़ा।

बोचाहन विधानसभा क्षेत्र में, विपक्षी राजद उम्मीदवार अमर कुमार पासवान ने भाजपा की बेबी कुमारी को 36 हजार से अधिक मतों से हराया।

कांग्रेस ने छत्तीसगढ़ और महाराष्ट्र में दो विधानसभा क्षेत्रों में एक-एक जीत हासिल की।

महाराष्ट्र के कोल्हापुर उत्तर से कांग्रेस उम्मीदवार जयश्री चंद्रकांत जाधव ने भाजपा के सत्यजीत कदम को 19,000 से अधिक मतों से हराया।

छत्तीसगढ़ के खैरागढ़ से कांग्रेस की यशोदा नीलांबर वर्मा ने जीत हासिल की।

पांच में से चार राज्यों में अपने हालिया विधानसभा चुनावों में बढ़त बनाए रखने वाली भाजपा को उपचुनाव के नतीजों से थोड़ा झटका लगा है।

भाजपा के एक वरिष्ठ पदाधिकारी ने कहा, बिहार को छोड़कर जहां पार्टी सत्ता में है, परिणाम अपेक्षित तर्ज पर हैं। आसनसोल में हम दो बार जीती सीट हार गए .. नेतृत्व आने वाले दिनों में परिणाम की समीक्षा करेगा।

एसजीके/एएनएम