भारत

ठेकेदार आत्महत्या मामला : कर्नाटक आप ने किया विरोध प्रदर्शन, मंत्री ईश्वरप्पा के खिलाफ दर्ज कराई शिकायत

बेंगलुरु, 13 अप्रैल ()। आम आदमी पार्टी (आप) की कर्नाटक इकाई ने बेलगावी में जोरदार विरोध प्रदर्शन किया और ग्रामीण विकास और पंचायत राज मंत्री के.एस. ईश्वरप्पा के खिलाफ भाजपा नेता संतोष के पाटिल की और एक ठेकेदार की आत्महत्या के आरोप में मामला दर्ज कराया है।

कर्नाटक के बेलगावी जिले के एक ठेकेदार और भाजपा नेता संतोष के. पाटिल ने आरोप लगाया था कि मंत्री ईश्वरप्पा ने अपने सहयोगी के माध्यम से अपने काम के लिए 40 प्रतिशत कमीशन की मांग की थी। जिसके बाद पाटिल ने उडुपी के एक होटल में जहर खाकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली।

पाटिल ने कथित तौर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और केंद्रीय पंचायती राज मंत्री गिरिराज सिंह को पत्र लिखकर ईश्वरप्पा पर उनसे 40 प्रतिशत कटौती की मांग करने का आरोप लगाया था।

राजू तोपन्नावर के नेतृत्व में आप कार्यकर्ताओं ने विरोध प्रदर्शन किया और बेलगावी में उस होटल को घेरने की कोशिश की, जहां कोर कमेटी की बैठक हो रही थी।

आप कार्यकर्ताओं ने प्रधानमंत्री नरेंद्र और मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई के खिलाफ नारेबाजी की।

कोर कमेटी की बैठक में प्रदेश भाजपा प्रभारी अरुण सिंह, पूर्व मुख्यमंत्री बी.एस. येदियुरप्पा और अन्य लोग शामिल थे। पुलिस ने स्थिति को नियंत्रित करने के लिए प्रदर्शनकारियों को हिरासत में ले लिया।

इस बीच, आप के बेंगलुरु शहर के अध्यक्ष मोहन दसारी ने ईश्वरप्पा के खिलाफ हाई ग्राउंड्स पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराई और उनकी गिरफ्तारी की मांग की।

दासारी ने विस्तार से बताया कि मृतक पाटिल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लिखे अपने पत्र में पहले कहा था कि ईश्वरप्पा द्वारा उनकी अनुबंध राशि रोककर उन्हें परेशान किया जा रहा है। उन्होंने यह भी कहा था कि अगर उनको कुछ भी होता है तो इसके लिए ईश्वरप्पा जिम्मेदार होंगे।

उन्होंने कहा कि सत्तारूढ़ सरकार द्वारा ठेकेदारों से 40 प्रतिशत कमीशन लेने के कारण ठेकेदार आत्महत्या कर रहे हैं। इसलिए, हम ईश्वरप्पा के खिलाफ मामला दर्ज करने और उन्हें तुरंत गिरफ्तार करने का आग्रह करते हैं।

एमएसबी/एसकेके