भारत

तीसरी लहर: क्या देश मे अक्टूबर तक आ जाएगी तीसरी लहर, क्या है ओपिनियन पोल

तीसरी लहर बच्चों के लिए काफी खतरनाक साबित हो सकती है। इस बात पर दो तिहाई एक्सपर्ट्स ने हामी भरी है।  एक एक्सपर्ट ने कहा है कि 18 से कम उम्र के बच्चों में खतरा इसलिए भी ज्यादा हो सकता है क्योंकि अभी इनके लिए वैक्सीन पर रिसर्च जारी है।

तीसरी लहर: क्या देश मे अक्टूबर तक आ जाएगी तीसरी लहर, क्या है ओपिनियन पोल

बेंगलुरु. कोरोना की दूसरी लहर देश के लिए काफी खतरनाक साबित हुई। देश की अर्थव्यवस्था तो खराब हुई ही साथ ही साथ कई जिंदगियां भी तबाह हो गयी। इसी बीच कोरोना की तीसरी लहर को लेकर अटकलें लग रही है।
सरकार के चीफ साइंटिफिक एडवाइजर साफ कह चुके हैं कि तीसरी लहर जरूर आएगी। लेकिन इस बात पर अभी रिसर्च जारी है कि यह लहर कितनी घातक होगी. अब समाचार एजेंसी रॉयटर्स ने दुनियाभर के करीब 40 एक्सपर्ट्स से इस मुद्दे पर रायशुमारी की है।

85 फीसदी एक्सपर्ट्स का कहना है कि भारत में तीसरी लहर अक्टूबर महीने तक आ सकती है. कुछ ने सितंबर और अगस्त महीने में भी तीसरी लहर का प्रभाव शुरू होने की बात कही है. हालांकि करीब 70 फीसदी एक्सपर्ट का मानना है कि भारत मे कोरोना की इस लहर का सामना दूसरी लहर के मुकाबले प्रभावी रूप से कर पायेगा।

क्यों तीसरी लहर हो सकती है नियंत्रित:

एम्स के डायरेक्टर रणदीप गुलेरिया ने कहा, ‘तीसरी लहर नियंत्रित हो सकती है क्योंकि तब तक वैक्सीनेशन का दायरा काफी ज्यादा बढ़ चुका होगा. दूसरी लहर के तुलना में तब तक देश में बड़ी संख्या में लोगों को कोरोना का टीका मिल जाएगा।’

यह भी पढें, ऑक्सीजन एक्सप्रेस के जरिये देश मे हुई 32,017 टन ऑक्सीजन की सप्लाई

तीसरी लहर है बच्चों के लिए खतरनाक:

बताया जा रहा है कि यह लहर बच्चों के लिए काफी खतरनाक साबित हो सकती है। इस बात पर दो तिहाई एक्सपर्ट्स ने हामी भरी है।  एक एक्सपर्ट ने कहा है कि 18 से कम उम्र के बच्चों में खतरा इसलिए भी ज्यादा हो सकता है क्योंकि अभी इनके लिए वैक्सीन पर रिसर्च जारी है।

इससे पहले WHO और एम्स ने अपने सर्वे में कहा था कि कोरोना की यह लहर बालिगों के मुकाबले बच्चों पर ज्यादा असर करेगी। लेकिन नए अध्ययन के अनुसार WHO व एम्स के अलग दावे है। सर्वे के मुताबिक बालिगों के मुकाबले बच्चों में सीरो पॉजिटिविटी रेट काफी ज्यादा है।

Tina Chouhan

Author, Editor, Web content writer, Article writer and Ghost writer

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker