भारतहिमाचल प्रदेश

बारिश का आतंक: हिमाचल, ऊना व कांगड़ा समेत इन राज्यों में बारिश ने मचाई तबाही

बारिश की वो रिमझिम.... गर्म चाय के साथ खिड़की के बाहर से आती गीली मिट्टी की वह तरोताजा कर देनी वाली सुंगध...बच्चों का बरसात के पानी मे अठखेलियाँ करना ...

नई दिल्ली. बारिश की वो रिमझिम…. गर्म चाय के साथ खिड़की के बाहर से आती गीली मिट्टी की वह तरोताजा कर देनी वाली सुंगध…बच्चों का बरसात के पानी मे अठखेलियाँ करना …कौन यह सब पसन्द नहीं करता। लेकिन जब कोई चीज यही हद पार करने लगे तो वह मुसीबत सी बन जाती है। ऐसा ही कुछ यहाँ का भी हाल है। हर कोई मानसून के आने के इंतज़ार में था। लेकिन जब मानसून आ गया तो वह धीरे धीरे कर के इतना विकराल होने लगा है।

हिमाचल प्रदेश में मानसून के दस्तक देते ही बारिश ने कहर बरपाना शुरू कर दिया है। पिछले दो दिनों से यहाँ भारी बारिश हो रही है। इस वजह से आम जीवन काफी प्रभावित हो गया है।
चंबा में बादल फ़टने, ऊना में ओले गिरने, कांगड़ा के बैजनाथ में बिजली गिरने से 250 से 300 भेड़ों की मौत हो गयी।
कुल्लू के महादेव मंदिर के पास जिया गाँव के जंगल मे बिजली गिरने के कारण आग लग गयी। बाद में आग को बुझा दिया गया। सोमवार को सूबे में मौसम बिगड़ा रहा व बादल छाए रहे।
कांगड़ा में 103, धर्मशाला में 58, पालनपुर में 14, शाहपुर में 38 व जोगिन्द्र नगर में 33 मिलीलीटर बारिश दर्ज की गई।

यह भी पढ़ें, मुम्बई में भारी से भारी बारिश का खतरा, किया लेट अलर्ट

चंबा की लेच पंचायत में बादल फ़टने की खबर गुरुवार की है। इसके कारण दो नालों का जलस्तर बढ़ गया, मलबा लोगो के घरों में घुस गया तथा खेतों में पानी घुसने से मक्की की फसलें नष्ट हो गयी।
गाँव मे जितने भी पेयजल के स्त्रोत है वे प्रभावित हुए है। वहीं सेब के बगीचों को भी नुकसान हुआ है। हालांकि अब तक जनहानि की कोई खबर नही है। ऊना में गर्मी के बीच बारिश होने से लोगो को राहत मिली।

इससे पहले गुरुवार को येलो अलर्ट के बीच मंडी में बारिश और ओलावृष्टि हुई, जबकि कांगड़ा जिले में बारिश और आंधी चली।
शिमला में दिन भर बादल छाए रहे। चंबा-तीसा वाया साच पास मार्ग बुधवार देर शाम वाहनों की आवाजाही के लिए लोक निर्माण विभाग ने बहाल कर दिया। इससे अब पांगी का इलाका देश-दुनिया से जुड़ गया है। जिला ऊना में बुधवार रात आठ वर्ष बाद सबसे अधिक 31 डिग्री न्यूनतम तापमान रिकॉर्ड हुआ।

मौसम विभाग ने कहा है कि शुक्रवार से 16 जून तक पूरे प्रदेश में बारिश के आसार है। 12 व 13 जून को प्रदेश के अधिकांश हिस्से अंधड़ व बारिश का शिकार होंगे। यहां ओरंज अलर्ट जारी किया गया है।
यहां प्री मानसून के आने की भी खबरे है।

 

 

 

 

 

Tina Chouhan

Author, Editor, Web content writer, Article writer and Ghost writer

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker