भारत

मुस्लिम बुजुर्ग की पिटाई को लेकर CM योगी व राहुल गांधी की ट्वीट हो रही वायरल

मुस्लिम बुजुर्ग व्यक्ति से मारपीट करने व जबरन धार्मिक नारे लगवाने की बात पर कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने ट्वीट किया। उन्हीने लिखा कि "मैं यह मानने को तैयार नही हूँ कि श्री राम

मुस्लिम बुजुर्ग की पिटाई को लेकर CM योगी व राहुल गांधी की ट्वीट हो रही वायरल

गाजियाबाद. गाजियाबाद में मुस्लिम बुजुर्ग व्यक्ति से मारपीट करने व जबरन धार्मिक नारे लगवाने की बात पर कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने ट्वीट किया। उन्हीने लिखा कि “मैं यह मानने को तैयार नही हूँ कि श्री राम के सच्चे भक्त इस कर सकते है, ऐसी क्रूरता मानवता से कोसो दूर है, और समाज व धर्म दोनों के लिए शर्मनाक है”

बताया जा रहा है कि सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हुआ है।
जिसमें एक मुस्लिम व्यक्ति ने चार अज्ञात लोगों पर गाजियाबाद में सुनसान पड़े एक मकान में ले जाकर उसे ‘जय श्रीराम’ का नारा लगाने के लिए मजबूर करने, पिटाई करने और दाढ़ी काटने का आरोप लगाया है।

वीडियो में अपने चोटों को दिखाते हुए मुस्लिम व्यक्ति समद ने आरोप लगाया है कि उसका गोकुलपुरी इलाके से उस समय अपहरण कर लिया गया था जब उसने गाजियाबाद में लोनी के लिए एक ऑटो लिया था, समद ने वीडियो में दावा किया कि जब उसने ऑटोरिक्शा किराए पर लिया तो उसमें पहले से ही दो लोग थे, जबकि दो और लोग उसमें सवार हो गए. इन चारों ने अचानक ऑटो के अंदर उसपर हमला किया, उसके सिर को एक कपड़े से ढक दिया तथा उसकी पिटाई शुरू कर दी।

यह भी पढें, लव जिहाद: गुजरात मे लागू हुआ लव जिहाद,जबरदस्ती धर्म परिवर्तन करवाने पर होगी सख्त सजा

इस पर गाजियाबाद पुलिस ने FIR दर्ज कर ली है। इस पर एक व्यक्ति परवेश गुर्जर को गिरफ्तार किया गया है। यह घटना 5 जून की है लेकिन इसकी खबर पुलिस को कुछ दिनों बाद लगी। पुलिस ने बताया कि इस घटना के पीछे एक तांत्रिक साधना है।

पीड़ित बुजुर्ग ने आरोपी को कुछ ताबीज दिए थे जिनके परिणाम न मिलने पर नाराज आरोपी ने इस घटना को अंजाम दिया। पुलिस ने यह भी बताया कि पीड़ित ने अपनी FIR में जय श्री राम के नारे लगवाने और दाढ़ी काटने की बात दर्ज नहीं कराई है।

यह घटना बुलन्दशहर के रहने वाले समद की है। समद ने यह खबर देर से यानी 7 जून को दर्ज करवाई। अपनी एफआईआर में जय श्री राम के नारे लगवाने के लिए मजबूर करने और दाढ़ी काटने को लेकर कोई आरोप नहीं लगाया है।

यह एक ने संदेहजनक बात है कि कोई और पीड़ित को ये आरोप लगाने के लिए उकसा रहा है। उन्होंने कहा कि अब वह 14 जून को नए आरोप कैसे लगा रहे हैं।

 

Tina Chouhan

Author, Editor, Web content writer, Article writer and Ghost writer

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker