भारत

मॉर्निंग वॉक पर निकले ठेकेदार को शूटर्स ने मारी पांच गोलियां, इलाके के लोगो मे फैली दहशत

मॉर्निंग वॉक पर निकले ठेकेदार को शूटर्स ने मारी पांच गोलियां, जिसमे से एक गोली दायें साइड कनपटी में, दूसरी गोली बायें साइड सीने में, तीसरी गोली सीने से नीचे व नाभि से ऊपर बीच में एवं बायें हाथ मे दो गोली मारी गई थी।

मॉर्निंग वॉक पर निकले ठेकेदार को शूटर्स ने मारी पांच गोलियां, इलाके के लोगो मे फैली दहशत

आरा. गोलियों से भुनने की यह घटना सुबह के समय की है जब वह ठेकेदार मॉर्निंग वॉक पर निकला था। शहर के टाउन थाना क्षेत्र के मोती टोला मोड़ पर रविवार की सुबह हथियारबंद बाइक सवार अपराधियों ने बालू कारोबारी को गोलियों से भून दिया। उसे इलाज के लिए शहर ले जाया जा रहा था कि बाबू बाजार स्थित निजी अस्पताल लाने के दौरान उसने रास्ते में ही दम तोड़ दिया. मृतक व्यक्ति को काफी करीब से पांच गोलियां मारी गई थी। जिसमे से एक गोली दायें साइड कनपटी में, दूसरी गोली बायें साइड सीने में, तीसरी गोली सीने से नीचे व नाभि से ऊपर बीच में एवं बायें हाथ मे दो गोली मारी गई थी।

यह भी पढ़े, लिफ्ट में 5 घण्टे फंसे रहने के कारण प्राइवेट स्कूल के लैब अटेंडेंट की मौत

गोलियों से भुनने की इस घटना के बाद आस पास के इलाके में दहशत फैल गई है। जानकारी के अनुसार मृतक अहिरपुरवा मोहल्ला निवासी स्व.यमुना राय का 36 वर्षीय पुत्र राजू यादव है। इसका पेशा ठेकेदारी था साथ ही यह कारोबारी भी था।

जैसे ही घटना की सूचना मिली कि टाउन थाना इंचार्ज शंभू कुमार भगत अपने दलबल के साथ तुरन्त घटनास्थल पर पहुंचे इसी के साथ वे मामले की छानबीन में जुट गए।
मृतक के चाचा सुशील कुमार ने बताया कि राजू हर रोज की तरह आज भी यानी रविवार की सुबह मोर्निंग वॉक पर टहलने के लिए निकला था.
टहलने के दौरान मृतक अपने सपना सिनेमा मोड़ के समीप ठेकेदारी वाले साइड को देखने जा रहा था, इसी बीच बाइक पर सवार कुछ हथियारबंद अपराधियों ने इस घटना को अंजाम दिया और उस पर ताबडतोड़ गोलियां बरसाने लगे। इन्होंने उसे पांच गोलियां मार दी. बाइक पर सवार यह तीन व्यक्ति थे जिन्होंने इस घटना को अंजाम दिया. यह तीनों अपराधी ठेकेदार को गोली मारकर आराम से हथियार लहराते हुए भाग निकले.
इस दिल दहला देने वाली घटना के बाद स्थानीय लोगों ने इसकी सूचना मृतक के परिजनों को दी.

जैसे ही सूचना मिली कि मृतक के परिजन घटनास्थल पर पहुंचे और आनन-फानन में उसे इलाज के लिए आरा शहर के बाबू बाजार स्थित निजी क्लिनिक ले जाने लगें, इसी बीच उसने रास्ते में ही दम तोड़ दिया. इसके बावजूद उसके परिजन उसे अस्पताल ले आए जहां चिकित्सक ने देख उसे मृत घोषित कर दिया. इसके बाद परिजन शव को वापस सदर अस्पताल ले गये। मृतक के चाचा सुशील कुमार ने बताया कि उनका किसी से भी कोई विवाद या दुश्मनी नही थी। पुलिस मामले की छानबीन कर रही है।

Tina Chouhan

Author, Editor, Web content writer, Article writer and Ghost writer

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker