अफगानिस्तानभारत

तालिबान प्रवक्ता जबीउल्लाह मुजाहिद का दावा : 31 अगस्त के बाद भी लोगों को निकलने देंगे

अब तालिबान प्रवक्ता जबीउल्लाह मुजाहिद दावा किया है की वह अमेरिका को अपनी सेना और लोगों को अफ़गानिस्तान से निकालने के लिए 31 अगस्त का समय दे रही है।

तालिबान प्रवक्ता जबीउल्लाह मुजाहिद का दावा :
31 अगस्त के बाद भी लोगों को निकलने देंगे

अफ़गानिस्तान पर तालिबान के कब्जे के बाद से ही नई नई बातें सामने आ रही है। अब तालिबान प्रवक्ता जबीउल्लाह मुजाहिद दावा किया है की वह अमेरिका को अपनी सेना और लोगों को अफ़गानिस्तान से निकालने के लिए 31 अगस्त का समय दे रही है। इतना ही नहीं जबीउल्लाह मुजाहिद ने अफगानिस्तान के उप राष्ट्रपति अमरुल्लाह सालेह पर प्रोपेगेंडा फैलाने का आरोप लगाते हुए कहा है कि, ‘ वे अफगानिस्तान के खिलाफ प्रोपेगेंडा चला रहे हैं हमारे दुनिया के शक्तिशाली देशों के साथ अच्छे रिश्ते हैं’।
वहीं अमेरिका और कई प्रमुख यूरोपीय देशों समेत 90 से अधिक देशों ने तालिबान की तरफ से विदेशी और अफगान नागरिकों को निकालने के लिए दिए गए आश्वासन पर एक संयुक्त बयान जारी किया है. संयुक्त बयान में इन सभी देशों ने बताया कि उन्हें तालिबान की तरफ से आश्वासन दिया गया है कि सभी विदेशी नागरिकों और किसी भी अफगान नागरिक को अपने देशों से यात्रा प्राधिकरण के साथ सुरक्षित रूप से अफगानिस्तान से बाहर जाने की अनुमति दी जाएगी.

31 अगस्त से पहले का ये समय बहुत अहम है

तालिबान की इस धमकी बाद अमेरिका ने कहा है कि वह अपनी सेना को 31 अगस्त को अफगानिस्तान से निकल लेगा। बता दें की बीते 24 घंटे में 11 अमेरिकी सैन्य उड़ानों और सहयोगी देशों की सात उड़ानों से लगभग 2000 लोगों को काबुल से सुरक्षित निकाला गया है। वहीं, 31 अगस्त से पहले का ये समय अमेरिका बहुत अहम मान रही है। बता दें कि अमेरिकी सुरक्षा एजेंसियां लगातार काबुल एयरपोर्ट पर हमले का अलर्ट जारी कर रही हैं। रविवार को भी अमेरिका ने एयरस्ट्राइक कर एक आत्मघाती आतंकी को मार गिराया। बताया जा रहा है कि वह अपने वाहन से काबुल एयरपोर्ट पर हमला करने की फिराक में था।

यह भी पढ़े : गैंगस्टर गिरफ्तार: उदयपुर कोटा का कुख्यात बदमाश हुआ गिरफ्तार, जिसे 13 साल पहले गोलियों से भूनकर कर दी थी हत्या

तालिबान ने दी अमेरिका को धमकी

तालिबान ने 15 अगस्त को काबुल पर कब्जा किया था. इसके बाद से अमेरिका, ब्रिटेन, फ्रांस, भारत समेत दुनिया के तमाम देश अपने नागरिकों को अफगानिस्तान से बाहर निकाल रहे हैं. हालांकि, तालिबान ने अमेरिका को 31 अगस्त तक अपने सैनिकों को वापस बुलाने की धमकी दी थी.

15 दिन में निकाले एक लाख से ज्यादा लोग 

एक रिपोर्ट के मुताबिक व्हाइट हाउस की तरफ से जारी बयान में बताया गया है कि अमेरिका ने 14 अगस्त से अबतक काबुल एयरपोर्ट (Kabul Airport) से लगभग 1,13,500 लोगों को निकाला है या निकालने में मदद की है। इसके अलावा अमेरिका ने जुलाई के अंत से करीब 1,19,000 लोगों को काबुल से स्थानांतरित किया है। व्हाइट हाउस के एक अधिकारी ने बताया कि अमेरिकी सेना (US Army) की 32 उड़ानों, जिसमें 27 सी-17 विमान और पांच सी-130 विमान की मदद से से शुक्रवार को लगभग चार हजार लोगों को और सहयोगी देशों की 34 की 34 उड़ानों के जरिये 2,800 लोगों को राजधानी काबुल से बाहर निकाला गया है।

 

Tina Chouhan

Author, Editor, Web content writer, Article writer and Ghost writer