भारत

Aspergillosis infection in hindi: ब्लैक फंगस के बाद अब फैल रहा एक और नया इन्फेक्शन, जाने क्या हैं लक्षण

ब्लैक, व्हाइट और येलो इन्फेक्शन के बाद देश में फैल रहा एक और नया फंगल इन्फेक्शन

- Aspergillosis infection in hindi: कोरोना से लड़ रहे भारत को लगातार कई खतरों का सामना करना पड़ रहा हैं। सबसे पहले कोरोना, फिर चक्रवात, फिर Black, White और Yellow Fungus। अब Aspergillosis नाम की एक नई बीमारी लोगों पर काल बन रही है। गुजरात में पहले ही ब्लैक फंगस के ऐक्टिव मरीज हैं,उन्हीं मे से 8 मरीजों में एस्परगिलोसिस के लक्षणो की पुष्टि हुई हैं। ऐसे में अब एक नए फंगल इंफेक्शन का खतरा मंडरा रहा है।

अब फैल रहे नए इन्फेक्शन का नाम Aspergillosis हैं। जानकारी के अनुसार, यह इन्फेक्शन कोरोना संक्रमितों या इससे ठीक हो चुके मरीजों में देखनें को मिल रहा हैं। गुजरात के वडोदरा में इस इन्फेक्शन (Aspergillosis infection in hindi) के 8 मरीज सामने आ चुके हैं। जानकारों के अनुसार, यह इन्फेक्शन कमजोर इम्यूनिटी वाले मरीजों में देखने को मिलता हैं। जो Aspergillosis अब कोरोना से ठीक या संक्रमित रोगियों में पाया जा रहा है, यह दुर्लभ साइनस का एस्परगिलोसिस हैं। एस्परगिलोसिस (Aspergillosis infection in hindi) से संक्रमित मरीजों की खास देखभाल की आवश्यकता होती हैं।

एक्स्पर्ट्स के अनुसार, कोरोना मरीजों में स्टेरॉयड के इस्तेमाल से फंगल इंफेक्शन के मामले बढ़ रहे हैं। अगर ब्लैग फंगस की बात करें तो, ये भी स्टेरॉयड के अत्यधिक इस्तेमाल की वजह से होता हैं। इसके अलावा इन फंगल इन्फेक्शनों के फैलने की एक वजह शरीर की कमजोर प्रतिरक्षा क्षमता भी हैं। हालांकि Aspergillosis infection ब्लैक फंगस (म्यूकोर्मिकोसिस) जितना खतरनाक इन्फेक्शन नहीं है।

गुजरात के वडोदरा में SGS अस्पताल में 262 ब्लैक फंगस के मरीजों का इलाज चल रहा हैं। इनमें ही 8 मरीजों में एस्परगिलोसिस (Aspergillosis infection in hindi) की पुष्टि हुई हैं। इसके अलावा SGS अस्पताल में ही मल्टी ड्रग्स रेजिस्टेंस यीस्ट इंफेक्शन कैंडिडा ऑरिस के भी 13 मामले पाए गए हैं।

ये भी पढ़ें

क्या हैं एस्परगिलोसिस के लक्षण? (Aspergillosis symptoms in hindi)

एस्परगिलोसिस के लक्षणो (Aspergillosis symptoms in hindi) की बात करे तो, इसके शुरुआती लक्षण ये हैं-
•सीने में दर्द
•खांसी के साथ खून आना
•बुखार
•खांसी और सांस लेने में कठिनाई
इसके अलावा यदि संक्रमण फेफड़ों से शरीर के अन्य भागों में फैलता है तो, अन्य लक्षण विकसित हो सकते हैं।

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker