बेंगलुरु हिंसा की तस्वीरे
बेंगलुरु हिंसा की तस्वीरे

बेंगलुरु हिंसा : सोशल मीडिया पोस्ट से भड़की हिंसा, 3 लोगों की मौत

- कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरु में सोशल मीडिया पोस्ट को लेकर हिंसा भड़क गयी। हालात इतने बेक़ाबू हो गए कि हालात काबू करने के लिए पुलिस को फायरिंग करनी पड़ी। अचानक भड़की इस हिंसा में 60 पुलिस वाले भी घायल हो गए हो गए। वहीं इस मामले में पुलिस ने कार्यवाही करते हुए 110 लोगो को गिरफ़्तार भी कर लिया हैं। वहीं बेंगलुरु हिंसा में अब तक 3 लोगों की मौत भी हो गयी हैं।

जानकारी के अनुसार, अपमानजनक पोस्ट से नाराज कुछ लोगों ने पुलाकेशी नगर विधायक अखंड श्रीनिवास मूर्ति के घर पर हमला कर दिया था। बेंगलुरु के डीजे हल्ली और केजी हल्ली पुलिस थाना इलाके में देर रात ये हिंसा भड़की, इस के बाद पूरे इलाके में कर्फ्यू लगा दिया गया है। इस मामले में सोशल मीडिया पर भड़काऊ पोस्ट करने के आरोपी को भी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया हैं।

पुलिस के मुताबिक, हिंसा वाले इलाकों में RAF, CRPF और CISF की कुछ टुकड़ियों को तैनात किया गया है। अब स्थिति पूरी तरह से क़ाबू में है। स्थिति को नियंत्रित करने के लिए हिंसा प्रभावित इलाकों डीजे हल्ली और केजी हल्ली थाना क्षेत्रों में कर्फ्यू लगा दिया गया है। साथ ही पूरे बेंगलुरु शहर मे धारा 144 लगा दी गयी हैं।

इस मामले में कर्नाटक के मुख्यमंत्री येदियुरप्‍पा ने कहा कि, अपराधियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी। पत्रकारों, पुलिस, जनता पर हमला सरकार बर्दाश्त नहीं करेगी। अपराधियों के खिलाफ आदेश जारी किए जा चुके हैं, स्थिति को नियंत्रित करने के हर संभव प्रयास किये जा रहे हैं।

बता दें, ये पूरी हिंसा एक विवादित फेसबुक पोस्ट के बाद भड़की। बेंगलुरु मे काँग्रेस विधायक श्रीनिवास मूर्ति के भतीजे नवीन ने कथित तौर पर फेसबुक पर भड़काऊ पोस्ट किया था, जिसको बाद में डिलीट कर दिया गया। इस विवादित पोस्ट के बाद भारी संख्या मे उपद्रवियों ने एकत्रित होकर कॉंग्रेस विधायक के घर पर हमला कर दिया। इस दौरान जमकर तोड़-फोड़ और आगजनी की गयी। यही नही उपद्रवियों ने पुलिस पर भी पथराव किया, जिसके बाद स्थ्ति को काबू करने के लिए पुलिस ने फायरिंग भी की। इसके बाद से इलाके मे कर्फ़्यू लगा दिया गया हैं। वहीं बेंगलुरु हिंसा की घटना के बाद पूरे शहर में धारा 144 लगा दी गयी हैं।

More Stories
सुशांत केस की जांच करने मुंबई पहुंची पटना पुलिस की जांच टीम पर करणी सेना कार्यकर्ता ने एफआईआर दर्ज करने को लेकर शिकायत दर्ज कराई हैं
शुशान्त सिंह राजपूत केस मे सियासत तेज, सीएम नीतीश कुमार ने सीबीआई जांच की सिफारिश की