भारत

कर्मचारियों ने अपनी कंपनी से 27 करोड़ रुपये किए ट्रांसफर, ईओडब्ल्यू ने किया गिरफ्तार

नई दिल्ली, 24 अक्टूबर ()। दिल्ली पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा ने रविवार को एक ऐसे व्यक्ति को गिरफ्तार किया है, जिसने अपनी कंपनी के खाते से डेढ़ साल की अवधि में 27.28 करोड़ रुपये की राशि अपने निजी खाते में ट्रांसफर किए हैं।

पुलिस के अनुसार, कमल कुमार (43), जो एक कानूनी फर्म जे सागर एसोसिएट्स में वित्त अनुभाग के महाप्रबंधक के रूप में कार्यरत था और वित्तीय धोखाधड़ी में शामिल था। उसने पिछले डेढ़ साल में ज्यादातर महामारी के दौरान 2,300 से अधिक एंट्री के माध्यम से 1.5 लाख रुपये तक के भुगतान की मंजूरी दी।

इस दौरान उसने इन हेराफेरी की रकम को अपने निजी खाते में डायवर्ट कर दिया। उसने अपनी फर्म के ऑनलाइन बैंकिंग पोर्टल में अनुरोध अपलोड करने में कामयाबी हासिल की और फर्म के सॉफ्टवेयर में भुगतान को मंजूरी दी। कंपनी के मालिकों द्वारा दायर शिकायत के अनुसार, कुमार ने फर्मों के अकाउंटिंग सॉफ्टवेयर में कई जाली एंट्री कीं और ये लेनदेन कुछ ग्राहकों के करों के भुगतान के झूठे बहाने पर किए गए थे।

प्रारंभिक जांच के बाद मामला दर्ज किया गया और ईओडब्ल्यू ने जांच शुरू की।

यह भी पता चला कि आरोपियों ने इस पैसे को शेयर बाजार में निवेश किया था और ऑप्शन ट्रेडिंग में घाटा उठाया था। वह एक स्नातक और एक योग्य सीए (चार्टर्ड एकाउंटेंट) भी है। पुलिस ने बताया कि वह 4.5 लाख रुपये मासिक वेतन पर कंपनी में काम करता था।

पुलिस ने कहा कि उसे हिरासत में ले लिया गया है और मामले में आगे की जांच जारी है।