भारत

फोन टैपिंग मामले में दिल्ली पुलिस के सामने पेश होंगे गहलोत के ओएसडी

जयपुर, 21 अक्टूबर ()। दिल्ली पुलिस द्वारा फोन टैपिंग मामले में तलब किए जाने के बाद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के विशेष कार्य अधिकारी (ओएसडी) लोकेश शर्मा शुक्रवार को पूछताछ के लिए अपराध शाखा के समक्ष पेश होंगे।

सात महीने पहले उनके खिलाफ मामला दर्ज होने के बाद वह पहली बार दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा के सामने पेश होंगे।

शर्मा ने से बात करते हुए कहा कि वह गुरुवार को दिल्ली के लिए रवाना हो रहे हैं।

उन्होंने आगे कहा, मैं पुलिस के साथ सहयोग करने के लिए तैयार हूं, अगर वे किसी भी चीज के बारे में पूछताछ करना चाहते हैं।

शर्मा को एक ईमेल के माध्यम से एक नोटिस जारी किया गया था, जिसमें उन्हें 22 अक्टूबर को राष्ट्रीय राजधानी में फोन टैपिंग मामले में सुबह 11 बजे पेश होने के लिए कहा गया था।

इससे पहले शर्मा को 24 जुलाई को पूछताछ के लिए बुलाया गया था, लेकिन वह उस वक्त पेश नहीं हुए थे।

शर्मा ने अपने खिलाफ दर्ज प्राथमिकी को हाईकोर्ट में चुनौती दी थी। हाईकोर्ट ने मामले में ओएसडी को राहत देते हुए उनकी गिरफ्तारी पर 13 जनवरी तक रोक लगा दी थी।

गहलोत सरकार के मुख्य सचेतक महेश जोशी को भी जून में पूछताछ के लिए बुलाया गया था, लेकिन वह पेश नहीं हुए थे।

जोधपुर के सांसद और केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने इस साल 25 मार्च को फोन टैपिंग का मामला दर्ज कराया था। केस दर्ज कराते हुए शेखावत ने कहा था कि फोन टैपिंग के जरिए उनकी छवि खराब करने की कोशिश की गई। शर्मा ने इस प्राथमिकी को दिल्ली उच्च न्यायालय में चुनौती दी थी। हाईकोर्ट में अब तक इस मामले की तीन बार सुनवाई हो चुकी है।