भारत

मौसम के राजस्थान पर मेहरबान होने की सम्भावना, प्रदेश के इन जिलों में है भारी से अतिभारी बारिश के आसार

मौसम विभाग के अनुसार उदयपुर संभाग के जिलों में 9 व 10 सितंबर को भारी से ज्यादा भारी बारिश भी होने की संभावना है। वहीं, एक और नया निम्न दबाव क्षेत्र बंगाल की खाड़ी में 11 सितंबर के

मौसम के राजस्थान पर मेहरबान होने की सम्भावना, प्रदेश के इन जिलों में है भारी से अतिभारी बारिश के आसार

सीकर. राजस्थान में बारिश का दौर बिल्कुल थम सएए चुका है, जिस कारण सूखा पड़ने जैसी स्थिति बन चुकी है। लेकिन शायद लोगों व किसानों की दुआ रंग लाई है और एक बार फिर से बारिश के दौर के आने की संभावना बन रही है। प्रदेश के कई जिलों में भारी से अतिभारी बारिश के होने की संभावना बन रही है।
मौसम विज्ञान केंद्र जयपुर के अनुसार उड़ीसा और आसपास के क्षेत्र में बना कम दबाव का क्षेत्र और तीव्र होकर सुस्पष्ट कम दबाव का क्षेत्र बन गया है। मानसून ट्रफ लाइन भी अपनी सामान्य स्थिति से गुजर रही है।
इसके प्रभाव के कारण राज्य के ज्यादातर भागो में आगामी दिनों में मानसून सक्रिय होने की सम्भावना बन रही है।

यह भी पढ़े, Fire in indonesia: इंडोनेशिया की जेल में लगी आग, 40 लोगो की मौत

इस दौरान उदयपुर, जोधपुर व कोटा संभाग के जिलों में कहीं-कहीं भारी बारिश के आसार है। मौसम विभाग के अनुसार उदयपुर संभाग के जिलों में 9 व 10 सितंबर को भारी से ज्यादा भारी बारिश भी होने की संभावना है। वहीं, एक और नया निम्न दबाव क्षेत्र बंगाल की खाड़ी में 11 सितंबर के आसपास बनने की संभावना भी बन रही है। जिससे अगले सप्ताह में भी प्रदेश में सामान्य से ज्यादा बरसात हो सकती है।

राजस्थान में कहाँ कहाँ हो सकती है भारी से अति भारी बारिश:

मौसम विभाग जयपुर के अनुसार बुधवार को पूर्वी राजस्थान के भरतपुर, जयपुर, अजमेर, उदयपुर व कोटा तथा पश्चिमी राजस्थान के जोधपुर संभाग में कहीं-कहीं हल्की से मध्यम बरसात हो सकती है। इनमें पूर्वी राजस्थान के उदयपुर, प्रतापगढ़, डूंगरपुर, बांसवाड़ा, चित्तौडगढ़़, राजसमंद, सिरोही व झालावाड़ जिले में कहीं कहीं भारी बारिश होने की संभावना भी है।

इसके बाद गुरुवार को भी पूर्वी राजस्थान के उदयपुर, डूंगरपुर व बांसवाड़ा जिलों में कहीं-कहीं भारी से अति भारी तथा कोटा, बारां, झालावाड़, भीलवाड़ा, चित्तौडगढ़़, प्रतापगढ़ ,राजसमंद व सिरोही जिलों में बिजली चमकने के साथ भारी बरसात व पश्चिमी राजस्थान के जालोर व पाली जिलों में कहीं-कहीं आकाशीय बिजली और मेघ गर्जन के साथ भारी बरसात हो सकती है।

स्काईमेट के अनुसार आज देश में यहां बरसात
स्काईमेट वेदर रिपोर्ट के अनुसार बुधवार को दक्षिणी राजस्थान में हल्की से मध्यम तथा बाकी प्रदेश में हल्की बरसात हो सकती है। इसके अलावा विदर्भ, मराठवाड़ा, उत्तरी मध्य महाराष्ट्र, कोंकण और गोवा, दक्षिण गुजरात और तटीय कर्नाटक के कुछ हिस्सों में मध्यम से भारी बारिश हो सकती है। पश्चिम बंगाल के कुछ हिस्सों, ओडिशा के कुछ हिस्सों, दक्षिण मध्य प्रदेश, तेलंगाना, सिक्किम, असम के कुछ हिस्सों और अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में हल्की से मध्यम बारिश के साथ कुछ स्थानों पर भारी बारिश की संभावना है। जबकि बिहार, उत्तर प्रदेश, झारखंड, आंतरिक ओडिशा, शेष मध्य प्रदेश, पश्चिमी हिमालय, पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, शेष पूर्वोत्तर भारत, केरल, आंध्र प्रदेश और आंतरिक कर्नाटक के कुछ हिस्सों में हल्की से मध्यम तथा मध्य प्रदेश के शेष हिस्सों, छत्तीसगढ़ और लक्षद्वीप में हल्की बारिश के आसार बने हुए हैं।

Tina Chouhan

Author, Editor, Web content writer, Article writer and Ghost writer