भारत

पत्रकार राजीव शर्मा चीन के लिए जासूसी के आरोप में गिरफ्तार, पुलिस को मिले खुफिया दस्तावेज़

- दिल्ली पुलिस (Delhi Police) की स्पेशल सेल की टीम ने नई दिल्ली के पीतमपुरा निवासी स्वतंत्र पत्रकार राजीव शर्मा (Freelance Journalist Rajeev Sharma) को चीन के लिए जासूसी करने के आरोप में गिरफ्तार किया हैं। दिल्ली पुलिस की टीम ने पत्रकार राजीव शर्मा (Journalist Rajeev Sharma) को ऑफिशियल सीक्रेट एक्ट के तहत गिरफ्तार किया हैं। पत्रकार राजीव शर्मा पर यह आरोप हैं कि उन्होने भारत की सुरक्षा से जुड़े कई संवेदनशील दस्तावेज़ चीन की खुफिया एजेंसी के साथ साझा किये हैं।

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल की टीम ने जानकारी देते हुए बताया कि पत्रकार के पास से रक्षा से संबंधित कुछ दस्तावेज भी बरामद किए गए हैं। पत्रकार के साथ दिल्ली पुलिस ने एक चीनी महिला और उसके नेपाली सहयोगी को भी गिरफ्तार किया हैं। इस महिला पर आरोप हैं कि उसने अपने नेपाली साथी के साथ मिलकर शेल कंपनियों के जरिये से भारी मात्रा में पैसे पत्रकार राजीव शर्मा (Journalist Rajeev Sharma) तक पहुंचाए।

इससे पहले दिल्ली पुलिस (Delhi Police) ने बताया कि पत्रकार राजीव शर्मा (Journalist Rajeev Sharma) को 14 सितंबर को हिरासत में लेकर 15 सितंबर को मजिस्ट्रेट के सामने पेश किया था। जहां से मजिस्ट्रेट ने आरोपी पत्रकार को छः दिन की रिमांड पर भेज दिया। पुलिस अधिकारियों से मिल रही जानकारी के अनुसार इस मामले में एक और पत्रकार से पूछताछ चल रही हैं।

स्पेशल सेल के डीसीपी संजीव कुमार यादव ने ये भी बताया कि पत्रकार ने चीनी खुफिया विभाग को 2016 से 2018 के बीच में रक्षा और रणनीति से जुड़े कई संवेदनशील दस्तावेज़ दिये। वह चीनी खुफिया एजेंसी के अधिकारियों से अलग-अलग देशों में अलग अलग जगहों पर मुलाक़ात करता था। डीसीपी ने बताया कि पत्रकार राजीव शर्मा (Journalist Rajeev Sharma) के दो साथियों, चीनी महिला और नेपाली युवक की महिपालपुर में एक कंपनी है, जहां वे चीन को दवाइयां एक्सपोर्ट करने का काम करते थे। चीन से पैसे यहाँ भेजे जाते थे, और उसके बाद यहीं से एजेंट को पैसे दिये जाते थे। जांच में पता चला हैं कि, पिछले एक साल में 40 से 50 लाख रुपये पत्रकार को दिए जा चुके हैं।

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker