modi
रामलला की पूजा करते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

पीएम मोदी ने रखी राम मंदिर की आधारशिला, बोले- राम मंदिर से निकलेगा भाईचारे का संदेश

- अयोध्या में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज राम जन्मभूमि मंदिर का भूमिपूजन किया. करीब 500 साल से जिन लम्हों का इंतजार था, वो लम्हा आज अवधनगरी में फलीभूत हो गया। करोड़ों राम भक्तों का सपना आज साकार हो गया है. बेहद शुभ मुहूर्त में राम मंदिर का भूमि पूजन संपन्न हुआ. साथ ही मंदिर निर्माण का शुभारंभ हो गया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को अयोध्या में राम मंदिर की आधारशिला रखी। 12 बज कर 44 मिनट पर चांदी की कन्नी से नींव डाली गई। इसके बाद प्रधानमंत्री ने देशवासियों को संबोधित किय। प्रधानमंत्री ने कहा कि बिनय न मानत जलधि जड़ गए तीनि दिन बीति। बोले राम सकोप तब भय बिनु होइ न प्रीति। इस चौपाई के जरिए उन्होंने शत्रुओं को संदेश दिया। प्रधानमंत्री ने कहा कि राम जी की यही नीति अब हिंदुस्तान की नीति है, हम जितने ताकतवर होंगे, उतनी ही शांति बनी रहेगी।

उन्होंने राम की महिमा का वर्णन करते हुए कहा कि तुलसी के राम सगुण राम हैं। नानक और कबीर के राम निर्गुण राम हैं। अयोध्या बुद्ध और जैनधर्म की धुरि रही है। तमिल में कंब रामायण तो कश्मीर में रामवतार चरित मिलेगा। मलयालम में रामचरितम है तो गुरु गोविंद सिंह ने खुद गोविंद रामायण लिखी है। राम सब जगह भिन्न-भिन्न रूपों में मिलेंगे लेकिन वो एक हैं। अनेकता में एकता के स्वरूप हैं। दूसरे देशों के नागरिक भी खुद को राम से जुड़ा मानते हैं।

हनुमानगढ़ी से पीएम नरेंद्र मोदी का काफिला सीधे रामजन्मभूमि पहुंचा। उन्होंने रामलाल के सामने साष्टांग प्रणाम करने के बाद राम लला की पूजा की। राम लला को फूलों की माला पहनाई। पुष्प अक्षत और चंदन अर्पित किया और फिर रामलला की आरती भी उतारी। आरती के बाद पीएम मोदी ने राम लला की परिक्रमा भी की।

More Stories
Niharika Times Scientists hunt pandemic hotspots in urge to test vaccines
Niharika Times Scientists hunt pandemic hotspots in urge to test vaccines