भारतराजस्थान

पंचायत समिति सदस्यों के पहले चरण के चुनाव, वोटिंग शुरू,मतदान को लेकर लोगों में उत्साह

पंचायत समिति सदस्यों के पहले चरण के चुनाव के लिए मतदान आज सवेरे 7:30 बजे से शुरु हो गया है। चुनाव को लेकर सुबह से ही लोगों का उत्साह देखा जा रहा है. बूथों पर लम्बी-लम्बी

पंचायत समिति सदस्यों के पहले चरण के चुनाव, वोटिंग शुरू,मतदान को लेकर लोगों में उत्साह

जयपुर।प्रदेश के 6 जिलों में जिला परिषद और पंचायत समिति सदस्यों के पहले चरण के चुनाव के लिए मतदान आज सवेरे 7:30 बजे से शुरु हो गया है। चुनाव को लेकर सुबह से ही लोगों का उत्साह देखा जा रहा है. बूथों पर लम्बी-लम्बी कतारें लगनी शुरू हो गई हैं. वहीं, कई जगहों पर शुरुआत में ईवीएम खराब होने की सूचना सामने आई, जिसके बाद उन्हें दुरुस्त किया गया हालांकि शुरु में मतदान की गति कम हैं लेकिन धीरे धीरे ये तेज हो जाएगी। मतदान शाम सायं 5. 30 बजे तक चलेगा। इसके बाद ईवीएम को सुरक्षित स्थलों पर पहुंचा दिया जाएगा। मतदान को लेकर कोरोना गाइडलान की सख्ती से पालना के निर्देश दिए गए है।

पहले चरण में इतने उम्मीदवार मैदान में—

जयपुर, जोधपुर, भरतपुर, सवाईमाधोपुर,दौसा और सिरोही जिले की 25 पंचायत समितियों के 521 सदस्यों और उनसे संबंधित जिला परिषद सदस्यों के लिए मतदान कराया जा रहा है। 521 पंचायत समिति सदस्यों के लिए 1721 उम्मीदवार अपनी किस्मत आजमा रहे है। इस चरण में लगभग 10 हजार ईवीएम मशीनों का इस्तेमाल किया जाएगा। जबकि 30 हजार से ज्यादा कर्मचारियों को लगाया गया है। जिला परिषद एवं पंचायत समिति सदस्यों के लिए दूसरे चरण का मतदान 29 अगस्त को और तीसरे चरण का 1 सितंबर को मतदान करवाया जाएगा। मतगणना 4 सितंबर को प्रातः 9 बजे से सभी जिला मुख्यालयों पर होगी।

26 लाख से ज्यादा मतदाता—

पहले चरण में 3599 मतदान केंद्रों पर 26 लाख 55 हजार 849 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग कर सकेंगे। इसमें 14 लाख 11 हजार 217 पुरुष, 12 लाख 44 हजार 623 महिला व 9 अन्य मतदाता अपने मताधिकार का इस्तेमाल कर सकेंगे। सभी चरणों के मतदान सम्पन्न होने के बाद 4 सितंबर को जिला मुख्यालय पर मतगणना करवाई जाएगी। उन्होंने बताया कि क्षेत्रों में होने वाले चुनावों पर कड़ी नजर रखने के लिए भारतीय प्रशासनिक सेवा और राजस्थान प्रशासनिक सेवा के अधिकारियों को लगाया गया है।

यह भी पढ़े : दो ट्रक आपस मे भिड़े ,भीषण टक्कर में एक चालक की मृत्यु और दूसरा गंभीर घायल

कोरोना संबंधी गाइडलाइन की करें पालना—

राज्य चुनाव आयोग ने निर्देश दिए हैं कि इस चुनाव में भी प्रत्येक मतदाता कोरोना महामारी से बचाव के उपायों के साथ मतदान प्रक्रिया में सक्रिय भागीदारी निभाए। उन्होंने कहा कि सभी मतदाता अपने घर से मास्क लगाकर मतदान के लिए जाएं। मतदान केंद्र में जाने से पहले हाथों को सेनेटाइज करें और मतदान के समय पंक्ति में खड़े रहने के दौरान चिन्हित गोलों पर खड़े रहकर या उचित दूरी बनाते हुए अपनी बारी का इंतजार करें। उन्होंने कहा कि मतदान के दौरान सीनियर सिटीजन और दिव्यांगजनों को प्राथमिकता दी जाए। उन्होंने मतदाता, उम्मीदवार या उनके समर्थकों से मतदान केंद्र या आसपास भीड़ या समूह में खड़े नहीं रहने की भी अपील की।

मतदान संबंधी शिकायत हो तो दें सूचना—

मतदान के दौरान किसी निर्वाचन संबंधी किसी भी समस्या के समाधान के लिए जिला व राज्य स्तर पर नियंत्रण कक्ष स्थापित किए गए हैं। निर्वाचन आयोग के मुख्यालय पर दो पारियों में संचालित नियंत्रण कक्ष के दूरभाष नंबर 0141-2227419, 2227420 पर संपर्क कर निर्वाचन से जुड़ी जानकारी हासिल कर सकते हैं। इसी तरह भरतपुर जिला मुख्यालय पर मतदाता 05644-220320 दूरभाष नंबर पर, जोधपुर के मतदाता 0291-2650345, सिरोही के मतदाता 02972-220706, सवाईमाधोपुर के मतदाता 07462-220602, दौसा के मतदाता 01427-224903 और जयपुर के मतदाता 0141- 2204259 मतदाता निर्वाचन प्रक्रिया या मतदाता से जुड़ी जानकारी या किसी भी तरह की शिकायत के लिए फोन कर सकते हैं।

वैकल्पिक दस्तावेजों से भी मतदान —

मतदान के लिए प्रत्येक मतदाता फोटो पहचान पत्र अपने साथ जरूर लाएं। यदि ये नहीं है तो निर्वाचन आयोग की ओर से अनुमति प्राप्त 12 अन्य वैकल्पिक दस्तावेजों में से किसी एक को दिखाकर भी मतदाता अपना वोट डाल सकते हैं। ये दस्तावेज आधारकार्ड, पासपोर्ट, ड्राइविंग लाइसेन्स, नरेगा कार्ड, आयकर पहचान पत्र, सांसदों, विधानसभा सदस्यों को जारी किए गए सरकारी पहचान पत्र, स्वास्थ्य बीमा योजना स्मार्ट कार्ड है। इसके साथ ही फोटोयुक्त पेंशन दस्तावेज, शारीरिक विकलांगता प्रमाण पत्र, सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक, सहकारी बैंक या डाकघरों की फोटोयुक्त पासबुक आदि से भी मतदान कर सकते है।

Tina Chouhan

Author, Editor, Web content writer, Article writer and Ghost writer