जम्मू व् कश्मीर

आतंकियों की क्रूरता का शिकार हुआ भट परिवार, SPO फैयाज की बहु ने सुनाई आप बीती

आतंकियों ने मां की गोद में लेटे 10 महीने के बच्चे को भी नहीं छोड़ा और लात मारकर जमीन पर गिरा दिया। वहीं इस परिवार की बेटी ने भी सोमवार को अस्पताल में दम तोड़ दिया।

आतंकियों की क्रूरता का शिकार हुआ भट परिवार, SPO फैयाज की बहु ने सुनाई आप बीती

पुलवामा. जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में आतंकियों की क्रूरता का शिकार हुए परिवार की बेटी ने भी सोमवार को अस्पताल में दम तोड़ दिया।
यह दिल दहला देने वाला खूनी खेल बीते रविवार को रात 11 बजे पुलिस अधिकारी फैयाज अहमद भट के घर में शुरू हुआ था।
बड़ों की बात तो दूर, उन बेरहम आतंकियों ने मां की गोद में लेटे 10 महीने के बच्चे को भी नहीं छोड़ा और लात मारकर जमीन पर गिरा दिया।

यह भी पढ़े, पुलवामा में आतंकवादी हमला: पुलिस अधिकारी के घर मे घुसकर की अंधाधुंध फायरिंग, पुलिस ऑफिसर व उनकी पत्नी ने दम तोड़ा, बेटी की हालत गम्भीर

अवंतीपोरा गांव के हरिपरिगम में रहने वाले विशेष पुलिस अधिकारी 50 वर्षीय भट के पूरे परिवार को आतंकियों ने गोलियों से भून डाला.

TOI की रिपोर्ट के मुताबिक, पुलिस ने बताया कि एके-47 राइफल के साथ आतंकवादी भट के घर पहुंचे, उनका चेहरा बंधा हुआ था। दरवाजा खोलने के बाद उन्होंने सबसे पहली गोली भट को मारी, इसके बाद उनकी पत्नी राजा बानो पर उन्होंने गोलियां चलाई। मां-बाप को बचाने की कोशिश कर रही 21 साल की बेटी रफीका जान को भी उन्होंने गोली मार दी।

भट की बहू साइमा इस दौरान अपने बच्चे को लिए हुए थीं. आतंकियों ने उन्हें भी नहीं छोड़ा तथा उसे और बच्चे को लातें मारी तथा वहां से भागने पर मजबूर किया।
रिपोर्ट के मुताबिक, साइमा बताती हैं, ‘मैंने हमारी जान की भीख मांगी, लेकिन उन्होंने बच्चे को भी नहीं छोड़ा. अपने परिजनों की तरह गोली मारे जाने के डर से मैंने चिल्लाने की हिम्मत नहीं की. मैं अपने बच्चे को उठाने के बाद दूसरे कमरे में भागी और कातिलों के जाने के बाद ही रोई.’

साइमा के पति लियाकत फैयाज है जो सेना में हैं और पुलवामा के ख्रिउ में तैनात हैं। एक ओर परिवार पर हमला हो रहा था वहीं वे अपने ड्यूटी निभा रहे थे।
पत्नी से हुई फोन पर बात के बाद जब वे घर पहुंचे, तो उनके मां-बाप की मौत हो चुकी थी और छोटी बहन जिंदगी और मौत की जंग लड़ रही थी. हमलावर जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी थे. इनमें से एक की पहचान पाकिस्तानी के रूप में हुई है।

भट के घर पहुंचे कश्मीर रेंज के आईजीपी विजय कुमार ने बताया कि एक हमलावर कोशुर बोल रहा था तथा दूसरा उर्दू में अनुवाद कर रहा था। उन्होंने कहा, ‘हमें इलाके में जैश के आतंकियों की जानकारी मिली है और इस बात के सबूत मिल रहे हैं कि एक व्यक्ति पाकिस्तानी है.’

Tina Chouhan

Author, Editor, Web content writer, Article writer and Ghost writer

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker