लक्ष्य सेन सेमीफाइनल में, किरण जॉर्ज क्वार्टर फाइनल में हारे (लीड-1)

Jaswant singh
4 Min Read

लक्ष्य सेन सेमीफाइनल में, किरण जॉर्ज क्वार्टर फाइनल में हारे (लीड-1) बैंकॉक, 2 जून ()। भारत के लक्ष्य सेन ने अपने अच्छे प्रदर्शन को जारी रखते हुए मलेशिया के लेओंग जून हाओ को सीधे गेम में हराकर सेमीफाइनल में प्रवेश कर लिया जबकि हमवतन किरण जॉर्ज यहां चल रही थाईलैंड ओपन 2023 बैडमिंटन चैंपियनशिप से शुक्रवार को हारकर बाहर हो गए।

2021 विश्व चैम्पियनशिप में कांस्य पदक जीतने वाले लक्ष्य ने थाई राजधानी के इंडोर स्टेडियम हुआमार्क में कोर्ट नंबर 2 पर खेले गए क्वार्टर फाइनल में अपने मलेशियाई प्रतिद्वंद्वी को 21-19, 21-11 से हराया। लक्ष्य ने सेमीफाइनल में प्रवेश किया, जहां उनका सामना शनिवार को सेमीफाइनल में चीन के लू गुआंग जू और थाईलैंड के कुनलावुत विटिडसन के बीच होने वाले विजेता से होगा।

दूसरी ओर, किरण जॉर्ज का जादुई सफर शुक्रवार को यहां क्वार्टरफाइनल में फ्रांस के टोमा जूनियर पोपोव से हारकर समाप्त हो गया।

23 वर्षीय किरण जॉर्ज, जिन्होंने थाईलैंड ओपन के अंतिम-आठ चरण में पहुंचने के लिए कुछ उलटफेर किए थे, लेकिन 28वीं रैंकिंग वाली फ्रांसीसी खिलाड़ी के खिलाफ 41 मिनट के मुकाबले में 16-21, 17-21 से हार गए।

लियोंग जुन हाओ के खिलाफ खेलते हुए, लक्ष्य पहले गेम में पिछड़ गए। मलेशियाई खिलाड़ी ने 10-10 के स्कोर से जल्द ही 16-10 की बढ़त बना ली। टॉप -10 खिलाड़ी रह चुके 21 वर्षीय लक्ष्य, जो अब बीडब्ल्यूएफ रैंकिंग में 23वें स्थान पर खिसक गए हैं, ने वापसी करते हुए 17-17 पर बराबरी की और भारतीय खिलाड़ी ने अंतत: पहला गेम 21-19 से जीत लिया।

दूसरे गेम में चीजें थोड़ी अलग थीं क्योंकि लक्ष्य ने शुरूआती बढ़त ले ली थी और 13-11 के स्कोर पर लगातार आठ अंक लेकर गेम 21-11 से जीत लिया और अंतिम चार में स्थान पक्का कर लिया।

23 वर्षीय किरण जॉर्ज, जिन्होंने थाईलैंड ओपन के अंतिम-आठ चरण में पहुंचने के लिए कुछ उलटफेर किए थे, 28वीं रैंकिंग वाली फ्रांसीसी खिलाड़ी के खिलाफ 41 मिनट के मुकाबले में 16-21, 17-21 से हार गए।

किरण जॉर्ज ने पहले दौर में चीन की तीसरी वरीयता प्राप्त शि यू की को हराया था और फिर प्री-क्वार्टर में एक अन्य चीनी शटलर वेंग होंग यांग से बेहतर प्रदर्शन किया।

पहली बार बीडब्लूएफ वल्र्ड टूर सुपर 500 इवेंट के क्वार्टर फाइनल में खेलते हुए, ओडिशा ओपन 2022 के विजेता, किरण जॉर्ज के खिलाफ फ्रांसीसी खिलाड़ी ने 5-0 की बढ़त बना ली।

हालांकि भारतीय शटलर ने अंतर को घटाकर 7-6 कर दिया, लेकिन पोपोव ने अगले तीन अंक जीतकर इसे 10-7 कर दिया। भारतीय खिलाड़ी ने स्कोर को 10-10 से बराबरी पर ला दिया और अंकों के नियमित आदान-प्रदान के बाद, पोपोव ने 17-14 से बढ़त बना ली और हालांकि जॉर्ज ने अगले कुछ अंकों के लिए अच्छा संघर्ष किया, लेकिन फ्रांसीसी शटलर ने पहला गेम 21-16 से जीत लिया।

दूसरा गेम करीबी था क्योंकि दोनों खिलाड़ियों ने प्रत्येक अंक के लिए जी जान से संघर्ष किया। पोपोव ने 5-3 से संकीर्ण बढ़त हासिल की, इसके बाद जॉर्ज ने 11-8 से बढ़त बना ली। जबरदस्त संघर्ष 17-17 तक जारी रहा लेकिन पोपोव ने गेम जीतने के लिए लगातार चार अंक जीते और 21-17 से गेम तथा मैच जीतकर सेमीफाइनल में जगह बना ली।

उनका अगला मुकाबला हांगकांग के आठवीं वरीयता प्राप्त ली चेउक यियू से होगा जिन्होंने एक अन्य क्वार्टरफाइनल में मलेशिया के एन त्जे योंग को 21-19, 23-21 से हराया।

आईएनएस

आरआर

Share This Article