मध्य प्रदेश

बिजली गुल होने के बावजूद मोबाइल की रोशनी में स्टाफ के द्वारा किया गया टीकाकरण, 15 अगस्त को किया जाएगा सम्मानित

बिजली ना होने के बाद भी अन्धेरे में पूरा एहतियात बरता जा रहा था. वेरिफाई करने का काम भी कर्मचारी अंधेरे में करते रहे. स्वास्थ्य विभाग का कोई बड़ा अधिकारी या..

बिजली गुल होने के बावजूद मोबाइल की रोशनी में स्टाफ के द्वारा किया गया टीकाकरण, 15 अगस्त को किया जाएगा सम्मानित

हरदा. हरदा मंडी में डेढ़ घंटे तक अंधरे में कोरोना का वैक्सीनेशन (Vaccination) चलता रहा. ड्यूटी डॉक्टर और नर्स मोबाइल टॉर्च की रोशनी में लोगों को वैक्सीन लगाते रहे. डॉक्टर, नर्स और कर्मचारियों की कर्तव्य के प्रति ईमानदारी दिखी. वहीं दूसरी ओर बिजली वितरण कम्पनी की बड़ी लापरवाही सामने भी आयी. सूचना के बाद भी कोई तत्परता नहीं दिखाई गयी. मामला कलेक्टर के संज्ञान में आते ही अधिकारी एक्शन में आए और व्यवस्थाएं दुरुस्त हुई.

यह भी पढ़े, देसी शराब से भरा ट्रक अनियंत्रित होकर पलटा, सड़क पर बिखरी शराब

बिजली विभाग की लापरवाही:

हरदा शहर में स्थित मंडी परिसर के रेस्ट हॉउस में टीकाकरण केंद्र बनाया गया है. इस केंद्र पर शाम को अन्धेरा होते ही बिजली गुल हो गयी. बार-बार सूचनाएं देने पर भी कोई सुधार न होने पर अंधेरे में ही वैक्सीनेशन किया गया. ड्यूटी नर्स अपने मोबाइल की लाइट में लोगों को कोरोना से बचाव का टीका लगाती रही. इस दौरान अन्धेरा होने पर भी पूरा एहतियात बरता जा रहा था. वेरिफाई करने का काम भी कर्मचारी अंधेरे में करते रहे. स्वास्थ्य विभाग का कोई बड़ा अधिकारी या बिजली वितरण कम्पनी का जिम्मेदार नहीं पहुंचा. वहां मौजूद मीडियाकर्मियों ने जब कलेक्टर को सूचना दी, तब लाइट आ पाई.

कर्तव्य के प्रति सजग डॉक्टर, नर्स और आंगनवाड़ी कार्यकर्ता:

कोरोना संक्रमण काल के बाद हरदा जिले में टीकाकरण केन्द्रों पर लगातार डॉक्टर नर्स और आंगनवाड़ी कार्यकर्ता ड्यूटी कर रहे हैं. इन कर्मचारियों की सजगता में कोई कमी नहीं आयी है. मंडी परिसर में बने टीकाकरण केंद्र पर भी डॉ मंजू वर्मा, स्टाफ नर्स सविता कुल्हारे, रजनी पाल और अन्य स्टाफ अंधेरे में ड्यूटी करता रहा. बिजली गुल होने के बाद सभी कर्मचारी लोगों को वैक्सीन लगाते रहे. हरदा कलेक्टर संजय गुप्ता को जब जानकारी मिली तो उन्होंने अंधरे में काम कर रहे कर्मचारियों की सजगता को देखकर कहा सभी का 15 अगस्त को सम्मान किया जाएगा. साथ ही लापरवाही पर बिजली वितरण कम्पनी के दोषी अधिकारियों को नोटिस देने की बात कही.

हरदा दूसरे पायदान पर:

हरदा जिले में वैक्सीनेशन को लेकर आमजन में गजब का उत्साह देखने को मिल रहा है. ग्रामीण इलाकों में देर रात तक वैक्सीनेशन चल रहा है. यही कारण रहा कि 28 जुलाई बुधवार को हरदा जिले ने 108 % उपलब्धि हासिल की. लक्ष्य से ज्यादा लोगों ने इस दिन वैक्सीन लगवाया. उसी का परिणाम रहा हरदा जिला पूरे प्रदेश में रतलाम के बाद दूसरे नम्बर पर रहा. कलेक्टर संजय गुप्ता ने कहा जिले में अब तक कुल 2 लाख 98 हजार 110 लोगों को वैक्सीन लग चुकी है. इसमें 2 लाख 54 हजार 223 लोगों को पहला डोज और 43 हजार 887 लोगो को दूसरा डोज लग चुका है.

 

Tina Chouhan

Author, Editor, Web content writer, Article writer and Ghost writer