राजनीति

तुष्टिकरण के कारण देश को सबसे बड़ा खतरा : संबित पात्रा

नई दिल्ली, 17 अप्रैल ()। दिल्ली के जहांगीर पुरी में हुई घटना की जांच की बात कहते हुए भाजपा राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा है कि इस पूरे मामले की जांच की जा रही है और हम सबको जांच रिपोर्ट के आने का इंतजार करना चाहिए। हालांकि इसके साथ ही उन्होंने यह भी जोड़ा कि विपक्ष चयनात्मक राजनीति कर रहा है और उनके तुष्टिकरण की वजह से देश को सबसे बड़ा खतरा है।

कांग्रेस राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी एवं अन्य विपक्षी दलों द्वारा जारी संयुक्त अपील को लेकर निशाना साधते हुए संबित पात्रा ने कहा कि विपक्ष के नेता जिस प्रकार की चयनात्मक राजनीति कर रहे हैं वो देश के लिए उचित नहीं बल्कि हानिकारक है। पात्रा ने आगे कहा कि सोनिया गांधी ने इस पत्र में विचारधारा की बात की है कि आखिर यह कौन सी विचारधारा है जो दंगे कराती है? इस विचारधारा का नाम तुष्टिकरण है जो 70 वर्षों से इस देश में चलाया जा रहा है।

दिल्ली भाजपा प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता के साथ पार्टी राष्ट्रीय मुख्यालय में संयुक्त प्रेस कांफ्रेंस करते हुए दोनों नेताओं ने आम आदमी पार्टी और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और पंजाब की आप सरकार पर भी जमकर निशाना साधा।

संबित पात्रा ने केजरीवाल की आलोचना करते हुए कहा कि काम नहीं करना और माहौल बनाना दिल्ली के मुख्यमंत्री की पुरानी आदत रही है और अब पंजाब सरकार भी इसी तर्ज पर काम कर रही है।

पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान द्वारा जारी एन्टी करप्शन हेल्पलाइन का जिक्र करते हुए भाजपा राष्ट्रीय प्रवक्ता ने कहा कि दिल्ली में भी केजरीवाल सरकार ने इसी तरह का हेल्पलाइन नंबर जारी कर भ्रष्टाचार के खिलाफ बड़े-बड़े दावे किए थे लेकिन जमीनी धरातल पर कोई काम नहीं हुआ।

उन्होंने कहा कि पहले कार्यकाल के दौरान 8 जनवरी, 2014 को केजरीवाल सरकार ने हेल्पलाइन नंबर जारी किया था। बाद में यह दावा किया गया कि इस हेल्पलाइन पर हजारों फोन कॉल आए। दूसरे कार्यकाल के दौरान 5 अप्रैल, 2015 को केजरीवाल ने भ्रष्टाचार के खिलाफ एक दूसरा और नया हेल्पलाइन नंबर – 1031 जारी किया। यह दावा किया गया कि 1031 नंबर पर एक लाख पच्चीस हजार फोन कॉल आए और इन शिकायतों के आधार पर 152 अधिकारियों को निलबिंत किया गया और 35 अधिकारियों को गिरफ्तार किया गया। जबकि आरटीआई के माध्यम से कुछ और ही जानकारी सामने आई।

पात्रा ने कहा कि एक आरटीआई के जवाब में दिल्ली पुलिस ने बताया कि 1031 पर कुल 282 कॉल आए और 7 मामलों में एफआईआर दर्ज की गई। वहीं एसीबी के स्पेशल सीपी ने 2015 में कहा कि इस हेल्पलाइन नंबर पर 451 शिकायतें आई और 11 मामले दर्ज किए गए। एक अधिकारी ने तो यहां तक कहा कि इसका कोई रिकॉर्ड नहीं रखा गया है क्योंकि इस कार्य के लिए उस समय निजी लोगों को रखा गया था। उन्होंने आरोप लगाया कि इस हेल्पलाइन नंबर को बाद में कोविड हेल्पलाइन नंबर में बदल दिया गया।

दिल्ली भाजपा प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने दिल्ली जल बोर्ड और डीटीसी में घोटाले का आरोप लगाते हुए शराब माफिया और हवाला कारोबार को लेकर भी आप नेताओं पर तीखा निशाना साधा। उन्होंने दिल्ली के शहरी विकास मंत्री सत्येंद्र जैन पर कई तरह के गंभीर आरोप लगाए।

एसटीपी/एसकेपी