राजनीति

देवघर के त्रिकूट रोपवे हादसे में कांग्रेस प्रभारी अविनाश पांडेय ने की रेस्क्यू टीम की सराहना

नई दिल्ली, 12 अप्रैल ()। झारखंड में देवघर हादसे में 46 घण्टे चले रेस्क्यू ऑपरेशन खत्म होने के बाद कांग्रेस के झारखंड प्रभारी महासचिव ने स्थानीय लोगों और रेस्क्यू टीम की सराहना की है।

दरसअल झारखंड में मंगलवार शाम देवघर हादसे का रेस्क्यू ऑपरेशन खत्म हो गया है। वायुसेना, एनडीआरएफ, आईटीबीपी और स्थानीय प्रशासन ने 46 घंटे तक रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया। इस हादसे में तीन लोगों की मौत हो गई।

इस को लेकर झारखंड प्रभारी अविनाश पांडेय ने मंगलवार को ट्वीट कर कहा, झारखंड के देवघर जिला स्थित त्रिकूट रोपवे हादसे में झारखंड सरकार एवं जिला प्रशासन के साथ भारतीय वायुसेन,आइटीबीपी, एनडीआरएफ के जवान के साथ स्थानीय लोगों की रेस्क्यू कार्यों की सहृदय सराहना करता हूं। साथ ही मृतक के परिवारों के प्रति संवेदना प्रकट करता हूं।

वहीं देवघर रोपवे हादसे के बाद, केंद्रीय गृह सचिव ने मंगलवार को सभी राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों के मुख्य सचिवों को एडवाइजरी जारी की है। उन्होंने सभी राज्यों से कहा कि रोपवे के लिए एक एसओपी (मानक संचालन प्रक्रिया) और आकस्मिक योजना बननी चाहिए। केंद्र के अनुसार भारतीय मानक ब्यूरो के तहत, रोपवे के लिए पहले से तय किए गए संचालन और रखरखाव के मानकों का पालन किया जाना चाहिए हर रोपवे की सुरक्षा व ऑडिट करने के लिए, अनुभव और योग्य फर्मों को काम पर रखा जाना चाहिए। दरअसल त्रिकूट रोपवे की घटना को लेकर, दिल्ली में गृह मंत्रालय ने हाई लेवल मीटिंग की थी।

इस बीच झारखंड सरकार त्रिकुट रोप वे हादसा और लोहरदगा में हुई घटना में मारे गए लोगों के परिजनों को पांच-पांच लाख रुपये का मुआवजा देने का ऐलान किया है। इसके साथ ही इन घटनाओं में घायल हुए मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने अपने आवास पर वरिष्ठ अधिकारियों संग बैठक में यह निर्णय किया। उन्होंने त्रिकुट रोप वे हादसे की जांच के लिए उन्होंने उच्चस्तरीय समिति गठित करने का निर्देश दिया है।

पीटीके/एएनएम