राजनीति

कर्नाटक : अक्षय पात्र ने स्कूली बच्चों के लिए फिर से मिड-डे मील शुरू किया

बेंगलुरु, 21 अक्टूबर ()। कर्नाटक में अक्षय पात्र फाउंडेशन ने गुरुवार को बच्चों के लिए मिड-डे मील (एमडीएम) योजना फिर से शुरू कर दी, क्योंकि कोविड-19 महामारी के कारण पिछले 18 महीने बंद रहे स्कूल फिर से खुल गए हैं। एमडीएम योजना से सरकारी और सरकारी सहायता प्राप्त स्कूलों के लाखों छात्र लाभान्वित होते हैं।

अक्षय पात्र फाउंडेशन द्वारा जारी बयान में कहा गया है, हम आज से राजाजीनगर, वसंतपुरा और जिगनी केंद्रीकृत रसोई में अपने तीन रसोई के माध्यम से बेंगलुरु और उसके आसपास के 789 स्कूलों में पढ़ने वाले 75,000 से अधिक बच्चों के लिए मिड-डे मील शुरू कर रहे हैं।

बयान में कहा गया है, फाउंडेशन ने स्कूल भोजन कार्यक्रम को एक सुरक्षित तरीके से फिर से शुरू करने की जरूरत महसूस की है। हमने सुरक्षित और पौष्टिक भोजन वितरण के लिए सभी आवश्यक कदम उठाए हैं। हमारे कर्मचारियों को पूरी तरह से टीका लगाया गया है और स्कूलों में भोजन पहुंचाने के लिए तैयारी, पैकेजिंग से लेकर कोविड सुरक्षा प्रोटोकॉल का सावधानीपूर्वक पालन करने के लिए प्रशिक्षित किया गया है।

फाउंडेशन ने बच्चों के लिए एक विशेष मेनू के चयन के बारे में कहा, 18 महीने के बाद स्कूलों को फिर से शुरू करने के साथ हमने लाभार्थियों के लिए एक विशेष मेनू तैयार किया है, यानी बीन्स, गाजर, शिमला मिर्च, आलू और गोभी से भरी हुई वेज बिरयानी, मूंग दाल और पायसम के रूप में एक मिठाई।

अक्षय पात्र फाउंडेशन एक गैर-लाभकारी संगठन है जो भारत में स्कूली बच्चों के बीच भूख और कुपोषण को दूर करने का प्रयास करता है। एमडीएम योजना को लागू करने का उद्देश्य न केवल भूख से लड़ना है, बल्कि बच्चों को स्कूलों में वापस लाना भी है।

एसजीके/एएनएम

Niharika Times We would like to show you notifications for the latest news and updates.
Dismiss
Allow Notifications