राजनीति

लॉकडाउन के दौरान मालदीव-दुबई में क्या कर रहे थे एनसीबी प्रमुख : राकांपा मंत्री

काईद नजमी

मुंबई/पुणे, 21 अक्टूबर ()। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) नेता और महाराष्ट्र के मंत्री नवाब मलिक ने गुरुवार को एक बार फिर एनसीबी पर निशाना साधते हुए कहा कि एनसीबी के मुंबई क्षेत्र के प्रमुख समीर वानखेड़े महामारी के कारण लगे लॉकडाउन के दौरान अपने परिवार के साथ दुबई और मालदीव में क्या कर रहे थे?

यही नहीं, मलिक ने बॉलीवुड हस्तियों के खिलाफ कथित तौर पर फर्जी ड्रग्स मामले गढ़ने के लिए वानखेड़े को जेल जाने की चेतावनी भी दी।

दोहरा हमला बोलते हुए मलिक ने वानखेड़े के परिवार की मालदीव में छुट्टियां मनाते हुए तस्वीरें साझा कीं, जब पूरा बॉलीवुड भी वहां मौजूद था।

मलिक ने पुणे में एक जनसभा में कहा, यह बिल्कुल स्पष्ट है कि यह सब वसूली मालदीव और दुबई में हुई। मैं उन तस्वीरों को जारी कर रहा हूं। वह मालदीव-दुबई में क्या कर रहा था, उन्हें जवाब देना चाहिए।

राकांपा नेता ने अपने परिवार के साथ दुबई-मालदीव की यात्रा पर वानखेड़े को सफाई देने की हिम्मत दिखाने को कहा। मलिक, जो राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता भी हैं, ने कहा कि कुछ फिल्मी लोगों को फर्जी मामलों में फंसाने और उन्हें एनसीबी के सामने परेड कराने का प्रयास किया गया है।

उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा, भारतीय जनता पार्टी के कुछ लोगों के साथ, वानखेड़े फिल्म उद्योग के लोगों को धमका रहे हैं.. मैं दोहरा रहा हूं – वह झूठे मामले दर्ज करते हैं और बिना किसी सबूत के व्हाट्सएप चैट के आधार पर लोगों को गिरफ्तार करते हैं। मैं इस पर और खुलासा करने जा रहा हूं।

राकांपा नेता ने घोषणा की कि जल्द ही, वह उन सभी फर्जी मामलों पर पूरे सबूत के साथ वानखेड़े का पर्दाफाश करेंगे, जिनके साथ वह बॉलीवुड में डर पैदा करने की कोशिश कर रहे हैं, जिसके लिए उन्हें भारी कीमत चुकानी होगी।

उन्होंने कहा, छह महीने के भीतर उनकी नौकरी चली जाएगी और एक साल के भीतर उन्हें जेल हो जाएगी। मैं उनके खिलाफ सबूत जुटा रहा हूं।

वानखेड़े की बहन जसमीन वानखेड़े की सोशल मीडिया की एक फोटो भी मलिक ने अपने आरोप को पुख्ता करने के लिए जारी की है। मलिक ने वानखेड़े से पूछा है कि आखिर उनके परिवार के लोग मालदीव और दुबई में क्या कर रहे थे और वे खुद भी इस दौरान वहां थे या नहीं? इसका जवाब उन्हें जनता को देना चाहिए।

वहीं दूसरी ओर समीर वानखेड़े, जिन्होंने जनवरी 2021 में कथित ड्रग्स मामले में मलिक के दामाद समीर खान को गिरफ्तार किया था, ने दुखी स्वर में कहा, मैं यह समझने में विफल हूं कि मुझ पर, मेरी बहन, मेरे सेवानिवृत्त पिता, मेरी मृत मां पर हमले क्यों हुए, जबकि मैं तो केवल अपना कर्तव्य निभा रहा हूं। मामले विचाराधीन हैं और मैं बाद में उचित जवाब दूंगा।

मलिक ने कहा कि अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मृत्यु (जून 2020) के बाद, वानखेड़े को एनसीबी में लाया गया था, लेकिन यह रहस्य बना हुआ है कि सुशांत ने आत्महत्या की या यह एक हत्या थी।

उन्होंने समीर वानखेड़े के व्हाट्सएप रिकॉर्ड की जांच करने की अपनी मांग दोहराई, जिससे एनसीबी की मामलों की कथित फर्जी प्रकृति का पता चलेगा।

मलिक के बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल ने कहा कि मलिक अपने दामाद की गिरफ्तारी से बौखला गए हैं और पिछले दो सप्ताह से एनसीबी की आलोचना कर रहे हैं।

एनसीबी-एनसीपी के बीच युद्ध तब शुरू हुआ, जब जांच एजेंसी ने एक क्रूज शिप पर चल रही एक रेव पार्टी पर छापा मारा और शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान सहित 8 लोगों को गिरफ्तार किया, जो कि अब 30 अक्टूबर तक न्यायिक हिरासत में हैं।

बाद में, इस मामले में एनसीबी ने 12 अन्य को गिरफ्तार किया। एजेंसी ने गुरुवार को मामले के संबंध में पूछताछ के लिए अभिनेत्री अनन्या पांडे को भी तलब किया।

एकेके/एएनएम