अजमेर

नीट, जेईई परीक्षा में फर्जी विद्यार्थी के द्वारा कमजोर विद्यार्थियों को पास करवाने वाला गिरोह का पर्दाफाश, 30-30 लाख रुपये वसूल रहा था गिरोह

नीट, जेईई, कॉमेड परीक्षा में लेनदेन कर दूसरे परीक्षार्थी बैठाने का काम करते थे। कमजोर विद्यार्थीयों से पैसा लेकर यह गिरोह फर्जी परीक्षार्थी को बैठाकर पास करता था।

नीट, जेईई परीक्षा में फर्जी विद्यार्थी के द्वारा कमजोर विद्यार्थियों को पास करवाने वाला गिरोह का पर्दाफाश, 30-30 लाख रुपये वसूल रहा था गिरोह

अजमेर. शुक्रवार को पुलिस महानिरीक्षक(अजमेर रेंज) की टीम ने एक बड़े गिरोह का खुलासा किया है, जो नीट, जेईई, कॉमेड परीक्षा में लेनदेन कर दूसरे परीक्षार्थी बैठाने का काम करते थे। कमजोर विद्यार्थीयों से पैसा लेकर यह गिरोह फर्जी परीक्षार्थी को बैठाकर पास करता था। पुलिस की टीम ने इन तीनो को दिल्ली, जयपुर व कोटा में दबिश देकर दबोच है।
गिरोह नीट व जेईई में कमजोर परीक्षार्थियों को गारंटी से उत्तीर्ण कराने व सरकारी कॉलेज में दाखिला कराने की एवज में लाखों रुपए वसूल रहा था।

यह भी पढ़े, हनीट्रेप के जाल में फंसाकर एक पोस्टमेन के जरिये आर्मी के लेटर ले रही थी पाकिस्तानी महिला एजेंट, पुलिस ने किया गिरफ्तार

अभी पुलिस को यह अंदेशा है कि गिरोह में कुछ और लोग भी शामिल हो सकते है।
आई.जी.(अजमेर रेंज) एस. सेंगाथिर ने नीट, जेईई, कॉमेड परीक्षा में लेनदेन कर फर्जी अभ्यर्थियों को बैठाकर धोखाधड़ी करने वाले अन्तरराज्र्यीय गिरोह की सूचना मिली।
अजमेर सिविल लाइन थानाप्रभारी सिविल अजमेर सिविल लाइन थानाप्रभारी अरविन्दसिंह चारण को विशेष टीम गठित कर ऑपरेशन डिकॉय करते हुए डमी परीक्षार्थी के साथ 17 लाख रुपए लेकर जयपुर भेजा गया।

डमी परीक्षार्थी के रूप में गजेन्द्र स्वामी नामक युवक को 17 लाख रुपए के साथ जयपुर से टीम ने गिरफ्तार किया।
इसके बाद दिल्ली से अर्पित स्वामी और कोटा से मोहम्मद दानिश रजा को पकड़ा।
इन सबके पास नीट, जे.ई. ई. परीक्षाओं में फर्जी विधार्थियों को बैठाने के सम्बन्ध में ढेर सारे संदिग्ध दस्तावेज, मूल पहचान पत्र, मार्कशीट व 4 लेपटॉप, 40 मोबाइल फोन, पेनड्राइव, हार्डडिस्क एवं अन्य दस्तावेज मिले।

सेंगाथिर के अनुसार विशेष टीम कई जगह अनुसंधान में जुटी है, यह गिरोह राष्ट्रीय स्तर पर होने वाले /जे.ई.ई./कॉमेड परीक्षार्थी में वास्तव में कमजोर विद्यार्थियों की जगह नकली/फर्जी विद्यार्थियों को परीक्षा में बैठाकर उनका चयन करवाते है जिसके लिए वे 30/30 लाख रुपये लेते है।

 

Tina Chouhan

Author, Editor, Web content writer, Article writer and Ghost writer