भरतपुर

रीट की परीक्षा को लेकर प्रबंधन हुआ सतर्क, घड़ी, अंगूठी, गले की चेन और कान की रिंग पर लगी पांबन्दियां, मास्क की भी होगी जांच

रीट की परीक्षा में इन चीजों पर मनाही हावी जैसे, घड़ी, अंगूठी, गले की चेन, कान की रिंग और किसी प्रकार के अन्य आभूषण। इसके अलावा परीक्षा में पर्स, हैंड बैग और डायरी भी ले जाना मना होगा।

रीट की परीक्षा को लेकर प्रबंधन हुआ सतर्क, घड़ी, अंगूठी, गले की चेन और कान की रिंग पर लगी पांबन्दियां, मास्क की भी होगी जांच

भरतपुर. भरतपुर के इतिहास में दो या तीन दिन में 35 हजार से 40 अभ्यर्थियों की परीक्षा हुई है, लेकिन ऐसा पहली बार होने जा रहा है कि इतिहास की सबसे बड़ी रीट परीक्षा होगी।
जिसमे 51 हजार 743 अभ्यर्थी एक ही दिन में दो पारी में परीक्षा देंगे।
जिसके लिए ओर शहर व जिलों में 199 परीक्षा केंद्र बनाए गए है।

अशोक कुमार अग्रवाल (जिला कोर्डिनेटर सह आचार्य) ने बताया कि 199 परीक्षा केंद्रों पर 51 हजार 743 अभ्यर्थी परीक्षा देंगे। भरतपुर शहर में 94, कुम्हेर में 12, डीग में 17, कामां में पांच, नदबई में 16, नगर में 11, रूपवास में 14, बयाना में 17, वैर में 13 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं।

यह भी पढ़े, सिलोकोसिस बीमारी से पीड़ित मरीजों के लिए कोरोना आया काल बनकर, घरों में रहने के कारण रुक गयी सांसे

अब केवल राजस्थान शिक्षक पात्रता परीक्षा 2021 के लिए अब युवाओं को परीक्षा प्रवेश पत्र का इंतजार है। जिस वजह से वो वहां जाने का इंतजाम कर सके।

इससे वो वहां जाने का इंतजाम कर सकें। इस परीक्षा के प्रवेश पत्र अब तक आ जाने चाहिए थे, लेकिन अब संभावना है कि मंगलवार तक प्रवेश पत्र आ जाएंगे। तीन साल बाद हो रही इस परीक्षा को लेकर युवाओं में भी काफी उत्साह है। जिले के ग्रामीण इलाकों में भी इस परीक्षा को लेकर अधिक उत्साह देखने को मिल रहा है। इसकी अधिक तैयारी युवतियां कर रही है।

इसमें भी शादी के बाद भी तैयारी करने वाली महिला अभ्यर्थियों की संख्या अधिक है। शिक्षक की नौकरी महिलाओं के लिए अधिक उपयुक्त भी मानी जाती है। इसके कारण इसकी तैयारी भी युवतियां अधिक कर रही हैं।

नही पहन सकेंगे आभूषण, पानी की बोतल ले जा सकेंगे

रीट की परीक्षा में इन चीजों पर मनाही हावी जैसे, घड़ी, अंगूठी, गले की चेन, कान की रिंग और किसी प्रकार के अन्य आभूषण। इसके अलावा परीक्षा में पर्स, हैंड बैग और डायरी भी ले जाना मना होगा। एग्जाम के दौरान मोबाइल, ब्लूटूथ और कैलकुलेटर का इस्तेमाल प्रतिबंधित रहेगा।

यदि इस परीक्षा में कुछ ले जाने की अनुमति जोहि तो वह है पानी की बोतल। दो पारियों में होने वाली इस परीक्षा का समय, लेवल टू पहली पारी में सुबह 10 बजे से साढ़े 12 बजे तक तथा ढाई बजे से शाम छह बजे तक होगी।

परीक्षा केंद्र के बाहर पोस्टर लगाकर चेतावनी दी गयी है कि यदि अनुचित साधनों का उपयोग किया गया तो जेल हो सकती है। जिनमे परीक्षार्थियों को मात्र प्रवेश पत्र, नीला या काले रंग का पैन, मान्य पहचान पत्र और इसकी स्वप्रमाणित छाया प्रति साथ में ले जा सकेंग

यह परीक्षा काफी सवेंदनशील समझी जा रही है,
इसके हिसाब से ही अधिक तैयारी की जाती है।
ताकि इसकी सुरक्षा और गोपनीयता बनी रह सके।

मास्क की होगी विशेष जाँच:

जाल ही में ऐसी घटनाएं घटी थी जिसमे मास्क के अंदर ब्लूटूथ छुपाने के मामले सामने आए ठगे जिसके चलते प्रबंधन अब सतर्क हो गया है।
यदि ऐसे में कोई विद्यार्थी विशेष प्रकार का मास्क पहनकर आता है तो उसकी जांच की जाएगी।

इसको लेकर अगले दो-चार दिन में परीक्षा संचालन समिति की ओर से विशेष गाइडलाइन भी जारी की जा सकती है। चूंकि समिति का मानना है कि राजस्थान की सबसे बड़ी परीक्षा में कोई भी गड़बड़ी बर्दाश्त नहीं की जाएगी। इसके साथ सभी एजेंसियों व पुलिस को भी परीक्षा विवाद रहित कराने के लिए अलर्ट कर दिया गया है।

 

Tina Chouhan

Author, Editor, Web content writer, Article writer and Ghost writer