जयपुर

स्कूल में महिला स्टाफ को लेकर डोटासरा ने कहा दी यह बात

स्कूल में महिला शिक्षक अधिक होती हैं, वहां झगड़े भी अधिक होते हैं। इस स्थिति में सुधार होना चाहिए। शिक्षा राज्यमंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने महिला...

स्कूल में महिला स्टाफ को लेकर डोटासरा ने कहा दी यह बात

जयपुर. जिस स्कूल में महिला शिक्षक अधिक होती हैं, वहां झगड़े भी अधिक होते हैं। इस स्थिति में सुधार होना चाहिए। शिक्षा राज्यमंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने महिला शिक्षकों को यह सीख अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम के दौरान दे डाली।

समसा और राजस्थान स्कूल शिक्षा परिषद की ओर से ओटीएस में ‘सशक्त बालिका, सशक्त राजस्थानÓ कार्यक्रम आयोजित किया गया था।

यह भी पढ़े, Rajasthan में कोरोना की नई गाइडलाइन हुई जारी, प्रदेश में लगा रहेगा जन अनुशासन कर्फ्यू

कार्यक्रम में डोटासरा ने कहा कि विधानसभा के चुनाव में भी महिलाओं को आरक्षण दिया जाना चाहिए। पहले बेटी को कोख में ही मार दिया जाता है, लेकिन आज महिला बहुत आगे निकल गई है। सरकार ने पॉलिसी ऐसी बनाई है जिसमें सरकारी नौकरी, पदस्थापन और प्रमोशन में भी महिलाओं को प्राथमिकता दी जा रही है।

पुस्तकों का किया विमोचन कार्यक्रम में ओलंपिक में स्वर्ण पदक जीतने वाली अवनी लखेरा और पर्वतारोही तुलसी मीना ने भी शिरकत की और बालिकाओं का उत्साहवर्धन किया। इस मौके पर ‘सुरक्षित विद्यालय शिक्षा और ‘साइबर सिक्योरिटी पर पुस्तक का विमोचन किया गया।

साथ ही विशेष उपलब्धियां हासिल करने वाली बालिकाओं को सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में अतिरिक्त मुख्य सचिव पीके गोयल, समग्र शिक्षा के निदेशक भंवरलाल, साइबर पीस फाउंडेशन के फाउंडर मेजर विनीत कुमार ने भी अपने विचार व्यक्त किए। इस दौरान स्कूली बालिकाओं ने आत्मरक्षा के तकनीकों का भी प्रदर्शन किया।

 

Tina Chouhan

Author, Editor, Web content writer, Article writer and Ghost writer