जयपुर

घर से घूमने निकले बच्चे हुए लापता, परेशान परिजनों ने पुलिस की ली मदद व बाद में मंदिर में छुपे मिले

घर से सुबह 11 बजे गायब हुए थे बच्चे। परिजनों ने बच्चों के गुमशुदा होने की बात भी कही। तो सांगानेर सदर पुलिस ने बच्चों की तलाश शुरू कर दी।

घर से घूमने निकले बच्चे हुए लापता, परेशान परिजनों ने पुलिस की ली मदद व बाद में मंदिर में छुपे मिले

जयपुर. चार बच्चों ने आने परिजनों व पुलिस की नाक में किया दम, वे जयपुर घूमने निकले थे और हो गए गुमशुदा। उन्होंने ऑटो की तथा घूमते हुए दिल्ली रोड पहुंच गए। वहीं दूसरी ओर परिवार वाले काफी परेशान हो बैठे और उनकी तलाश करने लगे। जबकि बच्चे बसों में बैठकर जयपुर ही घूम रहे थे। जब शाम हुई तो वे पिटाई के डर से गाँव के मंदिर में जा छुपे। पुलिस के द्वारा सीसीटीवी फुटेज चेक करने पर बच्चों का पता लग पाया।

यह भी पढ़े,हत्या का मामला: जयपुर में प्रॉपर्टी डीलर पति ने गला दबाकर की पत्नी की हत्या,हत्या के बाद ससुर को फोन कर बोला- आपकी बेटी फोन नहीं उठा रही

डीसीपी साउथ हरेंद्र महावर के अनुसार बच्चे सुबह के करीब 11 बजे घर से गायब हुए थे। परिजनों ने बच्चों के गुमशुदा होने की बात भी कही। तो सांगानेर सदर पुलिस ने बच्चों की तलाश शुरू कर दी। जिसके बाद उन गुमशुदा बच्चों का अचानक अनजान नम्बर से कॉल आया। लेकिन फिर कट हो गया।

पुलिस ने अच्छे से पता लगाया तो समझ आया कि यह फोन दिल्ली रोड के एक रेस्टोरेंट से आया था। पुलिस वहां पहुंची तो उन्हें वह बच्चे नही मिले। पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज चेक की और वे जयपुर पहुंचे। बाद में पता लगा कि बच्चे घर के आस पास ही थे। तथा बाद में वे मंदिर में ही मिले।

जब बच्चों से पूछताछ की गई तो उन्होंने बताया कि वे घूमने के लिए घर से निकले तथा वे सिंधी कैम्प में पहुंचे। जहां से वे बस में सवार हुए तथा दिल्ली रोड पहुंच गए। जब रास्ते मे बस रुकी तो वे एक रेस्टोरेंट पहुंचे तथा एक युवक से फोन लेकर अपने परिजनों को कॉल किया। बाद में वापस वे बस में बैठकर जयपुर आ गए। तथा पिटाई के डर से एक मंदिर में जाकर छुप गए।

Tina Chouhan

Author, Editor, Web content writer, Article writer and Ghost writer