जयपुर

मिमिक्री करने वाला ठगी: राजनेता, मजिस्ट्रेट व पुलिस अधिकारी की मिमिक्री कर लुटे करोड़ो, 100 से ज्यादा लोगो को ठग चुका है अबतक

मिमिक्री के जरिए ये पैसेवालों को चूना लगाता था। पड़ताल में सामने आया है कि आरोपी ने राजनेता, मजिस्ट्रेट, पुलिस अधिकारी की आवाजें निकालकर 10-35 लाख रुपए एक बार में ही ठग लेता है

मिमिक्री करने वाला ठगी:

जयपुर. फर्राटे से अंग्रेजी बोलने वाले आठवीं पास ठग को जयपुर पुलिस ने ब्यावार से गिरफ्तार किया है। मिमिक्री के जरिए ये पैसेवालों को चूना लगाता था। पड़ताल में सामने आया है कि आरोपी ने राजनेता, मजिस्ट्रेट, पुलिस अधिकारी की आवाजें निकालकर 10-35 लाख रुपए एक बार में ही ठग लेता है। अबतक 100 से ज्यादा लोगों से करोड़ों रुपए ठग चुका है। पुलिस ने उसे 5 दिनों की पुलिस रिमांड पर लिया है।

यह भी पढ़े, पुलिस उपनिरीक्षक भर्ती परीक्षा में नकल कराने वाले गिरोह का पुलिस ने किया भंडाफोड़ा, प्रधानाचार्य समेत 10 जनों को पकड़ा

कैसे पकड़ा गया शातिर मिमिक्रीबाज?:

जयपुर के माणक चौक थानाधिकारी सुरेंद्र यादव के मुताबिक 34 साल का सुरेश कुमार घांची उर्फ भैराराम बेहद शातिर मिमिक्री क्रिमिनल है। अजमेर जिले के ब्यावर से गिरफ्तार किया गया है। दरअसल 7 सितंबर को सर्राफा ट्रेडर्स कमेटी जयपुर के अध्यक्ष और ज्वेलर कारोबारी कैलाश मित्तल के नंबर पर फोन किया गया।

आरोपी ने कैलाश मित्तल को माणक चौक इंचार्ज सुरेंद्र यादव के नाम से फोन किया था। थानाधिकारी की आवाज निकाल कर ज्वैलर्स से बहुत जरूरी काम बता कर साढ़े तीन लाख रुपए मांगे। काफी सोच-विचार के बाद कैलाश ने रुपए भेज दिए। कैलाश मित्तल ने कुछ दिनों के बाद थानाधिकारी सुरेंद्र यादव से बात की। तब जाकर पूरे मामले का खुलासा हुआ। मोबाइल नंबर की डिटेल लेकर पुलिस ने आरोपी की लोकेशन निकाली। फिर गिरफ्तारी हो पाई।

फर्राटेदार अंग्रेजी की बदौलत ठगी:

पुलिसिया पूछताछ में ठगी के और भी कई मामलों के खुलासे हो रहे हैं। आरोपी सुरेश कुमार घांची उर्फ भैराराम केवल आठवीं तक पढ़ा है, लेकिन अंग्रेजी में लोगों से ऐसे बात करता है कि कोई भी झांसे में आ जाए। जयपुर में 10 से अधिक और राजस्थान में 100 से ज्यादा कारोबारियों से राजनेता, अधिकारी और मजिस्ट्रेट के नाम पर ठगी कर चुका है। इस तरह के राजस्थान में 60 से अधिक मामले दर्ज हैं।

15 दिन पहले ही जेल से छूटा था:

बांसवाड़ा में भी सुरेश ने मिमिक्री करके बिजनेसमैन से 35 लाख रुपए ठग लिए थे। कारोबारी की शिकायत पर पुलिस ने सुरेश को गिरफ्तार किया था। जेल में 13 महीने तक रहने के बाद 15 दिन पहले ही जमानत पर छूट कर आया था। रुपयों की जरुरत पड़ी तो उसने फिर मिमिक्री के जरिए ठगी शुरू कर दी।

 

Tina Chouhan

Author, Editor, Web content writer, Article writer and Ghost writer