जयपुर

डीजे पर नाच रहे लोगों ने कॉन्स्टेबल की कॉलर पकड़ सड़क पर कि पिटाई, राजनीति में पहचान का दिखाया रौब

डीजे पर डांस कर रहे लोगो को एक कॉन्स्टेबल ने हटने के लिए बोला इतने में एक अज्ञात डांस कर रहे युवक ने कॉन्स्टेबल की कॉलर पकड़ ली और एक तरफ के गया। जितने भी लोग इस

डीजे पर नाच रहे लोगों ने कॉन्स्टेबल की कॉलर पकड़ सड़क पर कि पिटाई, राजनीति में पहचान का दिखाया रौब

जयपुर. नागौर जिले में भड़की हुई भीड़ ने एक कॉन्स्टेबल की पिटाई कर दी। बीच सड़क पर डांस कर रहे लोगो को एक कॉन्स्टेबल ने हटने के लिए बोला इतने में एक अज्ञात डांस कर रहे युवक ने कॉन्स्टेबल की कॉलर पकड़ ली और एक तरफ के गया।

जितने भी लोग इस कार्यक्रम में शामिल थे उन सभी ने उस कॉन्स्टेबल को पीटना शुरू कर दिया। जैसे तैसे को कॉन्स्टेबल ने खुद को उनसे छुड़ाया औऱ बचकर निकला। हालांकि यह घटना तीन दिन पुरानी है लेकिन परबतसर पुलिस ने 10 लोगो के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू की है।

यह भी पढ़े, पांच हजार की सैलरी वाला कम्प्यूटर ऑपरेटर निकलक करोड़ो का व्यापारी, हेरफेर से खड़ा किया कारोबार

जानकारी के अनुसार पीलवा थाने से 1 सितंबर को चार पुलिसकर्मी दो आरोपियों को मेड़ता कोर्ट ले जा रहे थे।

जब पुलिस परबतसर थाना क्षेत्र के पीपलाद गांव पहुंची तो कुछ लोग सड़क पर डीजे के साथ डांस कर रहे थे। रामदेवरा के लिए गाँव से पैदल यात्रियों का संघ रवाना हुआ था, यह कार्यक्रम उन्हीं के स्वागत में रखा गया था। जाम की वजह से रास्ता नहीं मिलने पर कॉन्स्टेबल लीलाधर ने डीजे वाहन के ड्राइवर को गाड़ी साइड में लेने की बात कही। देखते ही देखते हंगामा शुरू हो गया और कुछ युवाओं ने कॉन्स्टेबल की पिटाई शुरू कर दी। वर्दी की कॉलर पकड़कर उसे घसीटकर मारपीट करते हुए दूर ले गए। अन्य पुलिसकर्मियों ने पहुंचकर उसे गाड़ी के अंदर बैठाकर भीड़ का शिकार होने से बचा लिया। फिलहाल पुलिस ने कॉन्स्टेबल की रिपोर्ट पर 3 नामजद सहित 7 अन्य के खिलाफ मारपीट, राजकार्य में बाधा व धक्का-मुक्की समेत अन्य धाराओं में मामला दर्ज कर लिया है

पीलवा थाने में पोस्टेड कॉन्स्टेबल लीलाधर ने बताया कि एक सितंबर को अन्य पुलिस स्टाफ के साथ प्राइवेट वाहन से थाने में गिरफ्तार दो आरोपियों को मेड़ता सिटी एससी-एसटी कोर्ट में पेश करने जा रहा था। इसी दौरान पीपलाद गांव में करकेड़ी सड़क पर रास्ते में दो डीजे बज रहे थे। इससे पूरा रास्ता जाम था।

ड्राइवर को डीजे साइड में लेने का कहा तो भीड़ में से देवीलाल डूकिया निवासी भादवा के साथ 7-8 लोगों और दोनों डीजे वाहनों के ड्राइवर मुकेश ढाका खानपुरा व ओमप्रकाश डारा ने जानलेवा हमला कर दिया। भीड़ में मौजूद लागों ने वर्दी की कॉलर पकड़ी और मारपीट करते हुए उसे साइड में ले गए। इस बात का पता चलते ही साथी पुलिस स्टाफ दौड़कर आए और जैसे-तैसे बचाकर गाड़ी में बैठाया। कॉन्स्टेबल ने बताया कि आरोपियों ने उसे राजनीतिक पहचान का रौब दिखाते हुए जान से मारने और वर्दी उतरवाने की धमकी दी। हालांकि पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है

 

Tina Chouhan

Author, Editor, Web content writer, Article writer and Ghost writer