जैसलमेर

आत्महत्या से पहले विवाहित ने विडियो बनाकर ससुराल पक्ष पर प्रताड़ित करने के लगाए आरोप, हाथ पर लिखा मोबाइल का पासवर्ड

आत्महत्या कर ली. परिजनों का आरोप है कि मौत से पहले विवाहिता ने अपना वीडियो बनाकर उसमे ससुराल पक्ष पर प्रताड़ित करने के आरोप लगाए है

आत्महत्या से पहले विवाहित ने विडियो बनाकर ससुराल पक्ष पर प्रताड़ित करने के लगाए आरोप, हाथ पर लिखा मोबाइल का पासवर्ड

जैसलमेर. जिले में सोमवार देर शाम एक 26 वर्षीय विवाहिता ने अपने ससुराल में आत्महत्या कर ली. परिजनों का आरोप है कि मौत से पहले विवाहिता ने अपना वीडियो बनाकर उसमे ससुराल पक्ष पर प्रताड़ित करने के आरोप लगाए है

मरने से पहले उसने हाथ पर अपने मोबाइल (Mobile) का पासवर्ड (Password) लिखकर जान दे दी. मामले में मंगलवार को मोर्चरी में परिजनों द्वारा हंगामा करने पर पुलिस ने ससुराल पक्ष पर मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है.

यह भी पढ़े, सांप के डसने पर नही करवाया इलाज, परिजन झाड़ फूंक के चक्कर मे रहे उलझे, युवक की हुई मौत

पीहर पक्ष का आरोप:

पीहर पक्ष का आरोप है कि उनकी बेटी को शादी के बाद से जेठ-जेठानी और जेठानी के भाइयों द्वारा सताया जा रहा था। जिसके चलते उसने मौत को गले लगा लिया। यह भी कहा जा रहा है कि मृतका ने मरने से मोबाइल में अपना वीडियो दर्ज किया है। जिसमें उसने अपनी मौत के जिम्मेदारों के नाम लिए हैं। बताया जाता है कि उसने अपने बाएं हाथ पर मोबाइल का पासवर्ड लिखा था। इस सब पर से अब पुलिस की जांच के बाद परदा उठ सकेगा।

क्या है मामला:

मृतका का पोस्टमार्टम करवाकर पुलिस ने शव परिजनों को सौंप दिया है। बताया जा रहा है साढ़े चार माह पहले हुई शादी मृतका के भाई रमेश कुमार पुत्र लूणाराम माली ने पुलिस में दर्ज करवाई शिकायत में बताया कि उसकी बहन मोनिका की शादी गत ३० अप्रेल को दीपचंद माली के साथ हुई थी। शादी के बाद मोनिका को ससुराल वाले दहेज को लेकर ताने देते थे, झगड़ा करते थे. उसने बताया कि मोनिका का जेठ भूराराम, जेठानी भंवरी और जेठानी के प्रताप व कुंदन उसे तंग तथा परेशान कर रहे थे। जिससे परेशान होकर मोनिका ने आत्महत्या कर ली।

साढ़े चार घण्टे बाद पीहर वालो को मिली बेटी की आत्महत्या की खबर:

मोनिका ने सोमवार दिन में ११ बजे जैसलमेर की सांवल कॉलोनी के पास स्थित ईश्वराराम की ढाणी में अपने ससुराल में फंदा लगाकर खुदकुशी कर ली। पीहर पक्ष ने बताया कि इसकी जानकारी उन्हें करीब चार घंटे बाद दी गई। रमेश माली ने बताया कि मरने से पहले उसकी बहन ने एक वीडियो भी बनाया है, जिसमें उसकी मौत के कारण और जिम्मेदारों के नाम लिए गए हैं। रमेश ने बताया कि मरने से पहले उसने अपने हाथ पर मोबाइल का पासवर्ड भी लिख दिया था तथा यह लिखा गया था कि उसकी मौत का कारण इस मोबाइल में है और मोबाइल का पासवर्ड हाथ पर लिखा है।

मोर्चरी के बाहर जमा हुई भीड़ मंगलवार सुबह जवाहिर चिकित्सालय के मोर्चरी के बाहर लोगों की भारी भीड़ जमा हो गई। पीहर पक्ष ने पुलिस के सामने मोनिका को आत्महत्या के लिए मजबूर करने वाले कथित आरोपियों की तत्काल गिर तारी की मांग रखी और उसके बाद शव उठाने की बात कही। इस पर जांच अधिकारी उपअधीक्षक भवानीसिंह ने उन्हें भरोसा दिलाया कि पुलिस इस मामले की निष्पक्ष और त्वरित ढंग से जांच कर अग्रिम कार्रवाई करेगी।

इसके बाद पोस्टमार्टम करवाकर मोनिका का शव पर्विारजनों को सौंप दिया गया। पुलिस ने इस संबंध में भादसं. की धारा ४९८, ३०४ बी/१४३ के तहत मामला दर्ज कर लिया है। भवानीसिंह ने मंगलवार सायं घटनास्थल का जायजा लिया। इससे पहले पुलिस ने सोमवार को घटना की जगह को सील कर दिया। पुलिस का कहना है कि मोबाइल की जांच करवाकर मामले में कार्रवाई की जाएगी।

 

Tina Chouhan

Author, Editor, Web content writer, Article writer and Ghost writer