जोधपुर

मनरेगा की मजदूर बनी प्रधान, चुनाव से पहले मिट्टी की तगरियाँ उठाती थी

मनरेगा मजदूर गुड्डी जो कि जोधपुर के चामू की रहने वाली है अब प्रधान बन गयी है। राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के सिंबल पर उन्होंने चामू पंचायत समिति सदस्य का चुनाव लड़ा था। चुनाव से पहले गुड्डी गांव में तालाब की खुदाई के

मनरेगा की मजदूर बनी प्रधान, चुनाव से पहले मिट्टी की तगरियाँ उठाती थी

जोधपुर. मनरेगा मजदूर गुड्डी जो कि जोधपुर के चामू की रहने वाली है अब प्रधान बन गयी है।  राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के सिंबल पर उन्होंने चामू पंचायत समिति सदस्य का चुनाव लड़ा था। चुनाव से पहले गुड्डी गांव में तालाब की खुदाई के वक्त मिट्टी की तगारियां उठाकर घर चलाती थीं। अब गांव के लोग ही गुड्डी के साथ सेल्फी ले रहे हैं। गुड्डी भी प्रधान बनने के बाद खुश हैं।

यह भी पढ़े, सड़क हादसे में एक परिवार के दो लोगों की मौत,कार का टायर फटने से हुआ हादसा,पोकरण से जोधपुर आ रहा था परिवार

गुड्डी पिलवा की निवासी है जिसकी शादी चामू के रहने वाले शंकरराम के साथ हुई थी। गुड्डी काफी पढ़ी लिखी है लेकिन उनके परिवार की आर्थिक हालत ठीक नही होने के कारण उन्हें मनरेगा में मजदूरी करनी पड़ी। आखिर गांव के लोगों ने ही गुड्डी का हौसला बढ़ाया और चुनाव लड़ाने के लिए आगे बढ़ाया।

गुड्डी ने चामू RLP के टिकट पर चुनाव जीता है, लेकिन भाजपा के समर्थन के बाद उसे प्रधान बनाया गया। हालांकि जहां भी RLP जीती, वहां भाजपा के समर्थन से अपना प्रधान बनाया है। ऐसे में कुल प्रधान की बात करें तो जोधपुर में 21 पंचायत समिति में दो में RLP ने अपना प्रमुख बनाया।

बतौर श्रमिक गुड्डी ने मनरेगा में 2019 से 2021 तक काम किया है। उन्होंने घर वालो के समर्थन से चुनाव लड़ा है। वार्ड नम्बर से गुड्डी खड़ी हुई तथा 242 वोट के साथ उन्होंने जीत हासिल की

चामू पंचायत समिति में कुल 15 सीटें थीं। इसमें भाजपा को 5, कांग्रेस को 5 और RLP को 5 सीटें मिली। ऐसे में RLP की गुड्डी देवी को भाजपा ने समर्थन देकर प्रधान बना दिया।

आपको बता दें कि गुड्डी के पति पहले उनके साथ मनरेगा में काम करते थे लेकिन अभी वे किसान है, गुड्डी साक्षर हैं।

 

 

Tina Chouhan

Author, Editor, Web content writer, Article writer and Ghost writer